__rupali__

#love to writing✍️✍️

Grid View
List View
  • __rupali__ 6w

    सब बदलता है वक्त के साथ
    कुछ आदतें नहीं बदलती

    पल पल में मौसम बदलते हैं दिन के साथ
    जैसे अपने बदलते हैं, इतना हवाओं की रफ्तार भी नहीं बदलती

    मुस्कुराते चेहरे की हकीकत कुछ और होती है
    चेहरे पर हमेशा सच्ची मुस्कुराहट ही नहीं दिखती

    अक्सर, लोग चाहते तो हैं बहुत कुछ
    लेकिन हज़ार कोशिशों के बाद भी चाहतें पूरी नहीं होती
    ©__rupali__

  • __rupali__ 11w

    आंसुओं की जबानी

    जरूरी तो नहीं हर वक्त लफ्ज़ का सहारा मिले ही,
    कभी- कभी कुछ कहानियां ये आंसू भी बयां कर देते हैं

    चाहे खुशी हो या गम, ये आंसूवें
    दोनों ही परिस्थिति के दास्तां ए जीवन बताते हैं

    मुस्कुराहटें कितनी ही छिपी हो, होठों पर
    ये आंसू की हर एक बूंद सारे एहसास से रूबरू करवाते हैं

    आंसुओं की जबानी जिसमें छुपी होती है हजारों कहानियां
    ये आंसू छलकते हैं बस उनके लिए, जो दिल के बहुत ही करीब होते हैं
    ©__rupali__

  • __rupali__ 15w

    #silence speaks when words can't.... ����


    #silence #lifelessons #life #pain #secret

    Read More

    चुप रहकर भी ये आईना,
    बहुत कुछ बोल गया

    एक जगह अटल रहकर भी ये पर्वत,
    बहुत कुछ सीखा गया

    हाल ए दिल कुछ ऐसा था
    जब लफ्ज़ कम पड़ गए,
    ये खामोशियां सहारा बन गया

    ज़ख्म जो दिल में रखे थे छुपा कर,
    ये शांत आंखें सारे राज खोल गया
    ©__rupali__

  • __rupali__ 17w

    सफ़र इश्क़ का...

    मुझे क्या पता ?
    तू कहीं और का मुसाफिर था!
    मंज़िल आते ही तेरे कदम किसी और दिशा में मुड़ गया
    तेरा साथ तो नहीं मिला मुझे,
    लेकिन चंद लफ्ज़ ही थे, जिसे मैं खुद में समा पाई!!

    अब तो ये आंसू भी मुझसे किनारा कर गए!
    एक ख्याल था, तेरे साथ का
    तेरे संग जीने का ख्वाब, बस ख़्वाब ही रह गया!!
    खत्म हो गई कहानी, क़िरदार भी न बचे!
    एहसास की अहमियत भी धूमिल हो गया!!
    तेरे संग सफ़र क्या? तू भी मेरा न हुआ,
    इस कदर सफर मेरे इश्क़ का अधूरा ही रह गया!!
    ©__rupali__

  • __rupali__ 19w

    काश! मैं एक सितारा होती
    आसमां से ढेरों चीजें देखती
    सप्तऋषि के साथ बातें करती
    गैलेक्सी से भी रिश्ता निभाती

    काश! मैं एक चांद होती
    हर रोज चांदनी के नूर को देखती
    ये आसमां हमारा आशियाना होता
    जहां किसी को आने की मंजूरी नहीं होती

    काश! मैं एक इंद्रधनुष होती
    हर दिन सात रंगों जैसी रंगीन होती
    बिछड़े रंगों के संगम के मेल को महसूस करती
    ऊंचाई से, सुंदर प्रकृति के सौंदर्य को देखती
    ©__rupali__

  • __rupali__ 23w

    #fathersday #papa #love #lifeline #myprestige
    ❤️��‍��❤️


    ����������

    Read More

    Father's day ‍❤️

    कठोर आवरण के पीछे,
    एक पिता का कोमल हृदय होता है

    एक पिता ही होते हैं,
    जो अपना प्रेम बिना जाहिर किए बयां करते हैं
    ©__rupali__

  • __rupali__ 25w

    Matlabi log‍♀️⏪

    मतलबी लोगों की बातें भी मतलबी ही होती है,
    जब तक मतलब होता है, तब तक ये साये की तरह साथ रहते हैं।

    ये किसी की परेशानियां सुनने से ज्यादा,
    अपनी व्यथा सुनाने में व्यस्त रहते हैं।।

    ऊपर से नरम स्वभाव, अंदर से गुस्सा रखते हैं,
    बुरा वक्त आते ही अपना असली रंग दिखा देते हैं।

    इन्हें अपनों की परवाह कहां होता है?
    ये वही लोग होते हैं,
    जिनके पास बिना मतलब का कभी वक्त ही नहीं होता है।

    जहां जरूरत, वहां रिश्ते बनाते हैं
    ये दूसरों की बर्बादी पर जश्न भी मनाते हैं
    अक्सर ऐसे ही लोगों के लहज़े,
    वक्त के साथ बदल जाया करते हैं।।
    ©__rupali__

  • __rupali__ 26w

    दोस्ती

    दोस्ती वो नहीं, जो दिखाया जाए
    दोस्ती वो है, जहां साथ निभाया जाए

    दोस्ती वो नहीं, जहां दूरियां एक समस्या बन जाए
    दोस्ती वो है, जहां गलतफहमियां भी पास न आने पाए

    दोस्ती वो नहीं, जो बीच मझधार में अकेला छोड़ जाए
    दोस्ती वो है, जो साथ मिलकर नैया पार लगाए

    दोस्ती वो नहीं, जो एक गलती के साथ रिश्ता तोड़ जाए
    दोस्ती वो है, जो ताउम्र दिल से रिश्ता निभाए

    दोस्ती वो नहीं, जो बस साथ में तस्वीरें खिंचाए
    दोस्ती वो है, जो मन की बात बिना व्यक्त किए ही समझ जाए

    ©__rupali__

  • __rupali__ 29w

    Negative people ������..... Part 3

    Read More

    Negative people

    ऐसे लोग झूठ को भी बड़ी ही सफाई के साथ,
    किसी के सामने परोसते हैं।
    ये दिल में नफ़रत पालकर रखते हैं,
    और अक्सर वक्त के साथ बदल जाया करते हैं।।
    ©__rupali__

  • __rupali__ 29w

    Negative people������.... Part 2

    Read More

    Negative people

    जब उनका वक्त ख़राब होता है,
    तो वे सभी को नकारात्मक दृष्टि से ही देखते हैं।
    खुद की मानसिकता न बदलकर,
    सभी को एक ही तराज़ू में तौलते हैं।।

    सच सुनने का साहस इनमें होता नहीं,
    लेकिन दूसरों में खामियां निकालना,
    ये अपना पहला कर्म मानते हैं।
    ये खुद को बदलना तो दूर,
    अपनी छोटी सोच से भी बाहर नहीं आ पाते हैं ।
    ©__rupali__