Grid View
List View
  • abhijames 8w

    कुछ मेरे अल्फाजों में कमी रह गई,
    कुछ तुमहरी नजरों का भी दोष रह गया....
    बात कभी खरी जुबान से दोनों की निकली नहीं,
    अफ़साना दिल की पगडंडी में बंद रह गया....
    ©abhijames

  • abhijames 8w

    मैं ज़िन्दगी के दिये जला रहा था, उम्र मेरी घटा रहा था, कोहिनूर जो दिल में था, उसी का अक्स मिटा रहा था.
    नींद में अपनी चुरा रहा था, ख्वाबों का झरोखा मिटा रहा था, सर्द रात थी मगर एक आँसू कोहरे में दबा रहा था.
    ©abhijames

  • abhijames 10w

    एक अंश जिंदगी का....

    कुछ दर्द दिल में लिए अकेला रहता हूं !!
    खामोशियों में अपनी यादों को, कागजों में लिखता हूं !!
    अल्फाज दिल में अब घर बसाने लग गए हैं !!
    शिकायत किसी से नहीं, बस अपने आप को कोसता हूं !!
    ©abhijames

  • abhijames 11w

    ...कुछ पुराने खत....

    कुछ पुराने ख़त तुमहरी याद दिलाते हैं,
    कह ना सका लबों से वो पैग़ाम सुनाते हैं,
    मंजर मेरी आशिकी का वो तन्हा बताते हैं,
    नगमो में बसे उन्हीं शब्दों को हम आज भी गुनगुनाते हैं....
    ©abhijames

  • abhijames 13w

    की थोड़ी देर और रुक जाओ, रात अभी बाकी है!!
    मुलाकात अभी हुई है, प्यार अभी बाकी है!!
    अकेले आये हो, साथ चलना बाकी है!!
    नजारों में उतर गए हो, दिल में उतरना बाकी है!!
    ©abhijames

  • abhijames 15w

    तुमसे मुखातिब होने की आरज़ू रखता हूं !!
    इस्तकबाल तुम्हारा होता रहें यही दुआ करता हूं !!
    मुख्तसर इस जिंदगी में तुम सदा मेरे दिल में ही रहो !!
    बस इतनी सी इल्तेजा ख़ुदा से हर बार करता हूं !!
    ©abhijames

  • abhijames 16w

    बीते लम्हों की बातें ज़रा सम्भाल कर रखना,
    हम याद तो आएंगे, पर लौट कर नहीं आएंगे!!
    दिल में बसे जज्बातों को छुपा कर रखना,
    सुन तो लेंगे कुछ तुम्हें, पर समझ नहीं पाएंगे !!

    ©abhijames

  • abhijames 17w

    मेरा भी होता----

    सितारों की महफिल में, काश कहीं एक मेरा भी होता !!
    कहता भले ही नहीं कुछ भी, लेकिन दिल के करीब होता !!
    उम्मीद नहीं रखता, बस उसकी निगाहों का करम होता !!
    कोशिश मुलाकात की कभी करी नहीं, वरना आज वो मेरा सनम होता !!
    ©abhijames

  • abhijames 17w

    मुझसे जो करनी थी, बातें वो खुद से तू करना !!
    मेरे लिखे खत, तुम दोबारा से पढ़ना !!
    आंसू जो आए तुम्हें, तो थोड़ा सा हसना !!
    मुझसे अगर मिलना हो तोह, खुद से तुम मिलना !!

  • abhijames 17w

    शिद्दत बना लूं-----

    धागा एक बंधन, तुझको मन्नत बना लूं !!
    कागज पे दिल के, तेरी सूरत बना लूं !!
    तुझको साजा और, अदालत बना लूं !!
    छूटे कभी ना, वो आदत बना लू !!
    आ तुझे शिद्दत बना लूं !!