Grid View
List View
Reposts
  • archii__ 49w

    This love is more Dangerous than poison
    Whatever we taste, we live by dying .
    ©archii__

  • archii__ 52w

    इश्क़ लिखा,मोहब्बत लिखी..
    प्यार लिखा,चाहत लिखी..
    फ़िर लगा कि दो अक्षर ही काफ़ी थे
    मन की बात लिखने को..
    फ़िर सब कुछ मिटाकर
    लिख दिया..... ♥️♥️सिर्फ_तुम....♥️♥️
    ©archii__

  • archii__ 52w

    मेरा मनोबल… दुर्बल पड़ सकता है…
    पर मेरे शब्द…कभी हार नहीं मानेंगे ॥

    मेरा परामर्श… अधूरा मर सकता है…
    पर मेरे अर्थ… कभी हार नहीं मानेंगे ॥

    ©archii__

  • archii__ 52w

    मुलाक़ात

    कहाँ आँसुओं की ये सौग़ात होगी
    नये लोग होंगे और नई बात होगी।

    मैं हर हाल में भी मुस्कुराती रहूँगी
    तुम्हारी मोहब्बत अगर साथ होगी।।

    चराग़ों को आँखों में महफ़ूज़ रखना
    बड़ी दूर तक रात ही रात होगी।।।

    चराग़ों की लौ से सितारों की ज़ौ तक
    तुम्हें मैं वहीं मिलूँगी जहाँ रात होगी।।।

    जहाँ वादियों में फिर नये फूल खिलेंगे
    हमारी तुम्हारी जवां मुलाक़ात होगी।।।

    सदाओं को अल्फ़ाज़ मिलने न पायें
    न बादल घिरेंगे और न बरसात होगी।।।

    मुसाफ़िर हैं हम भी मुसाफ़िर हो तुम भी
    किसी मोड़ पर फिर से मुलाक़ात होगी।।।

    ©archii__

  • archii__ 53w

    अद्वितीय होना बेहतर है।
    सर्वश्रेष्ठ से बेहतर होना।।
    आपको नंबर एक बनाता है लेकिन,
    अनोखा होना भी आपको अकेला कर देता है।।।

    Read More

    It is better to be unique.
    to be better than the best
    makes you number one but
    Being unique also makes you lonely

    ©archii__

  • archii__ 54w

    As long as you know who you are
    and what makes you happy,
    It doesn't matter how
    others see you.
    You do what makes you
    happy ALWAYS..

    ©archii__

  • archii__ 54w

    NEVER worry about what
    others are doing,
    pay attention to your choices,
    your path,what you are learning
    and doing to reach the highest ideal
    you have set for your life.
    You matter, your life matters,
    so don't give up......
    ©archii__

  • archii__ 54w

    क्या मंदिर,क्या मस्जिद,क्या गंगा की धार करे..
    वो घर ही मंदिर जैसा है
    जिसमें औलाद माँ बाप का सत्कार करे।।
    ©archii__

  • archii__ 55w

    हर भाषा में प्रेम के
    लिए एक शब्द है ।
    पर मेरी भाषा का
    प्रेम निःशब्द है ।।
    ©archii__

  • archii__ 55w

    सब प्रेम नहीं मांगते
    कुछ तुमसे तुम्हारी पीड़ा
    भी मांगते हैं ,,

    मांगने वाला हर
    व्यक्ति "भिक्षुक " नहीं होता
    कुछ "बुद्ध" भी होते हैं...!!


    ©archii__