deeptimishra

youtu.be/DXTyxTHAIGk

अभी लिखना सीखा हैं, बेहतर लिखने में वक्त हैं ।🌚

Grid View
List View
Reposts
  • deeptimishra 10w

    Jab Hume koi naya insan milta hai,,,hume aisa lgta hai bs isi ka to intezar tha pr fir ek din vaha ye bharam bhi Tut jata hai.
    Zindagi me bhut se log aate hai or jate hai,,waise to ye koi badi bat hai ni...pr har insan hum par ,,humari zindgi par...humare man pr ek chap chod jata hai..
    Fir voh insan dubara kbhi mile ya na mile...par humari yadon me uski ek jgh fix ho jati hai.
    Hum aage badhte rehte hai...or yadon ki potli bharti rehti hai.
    Kisi ka humare zindgi se asal mayne me kbhi jana hota hi nahi hai...
    Unki nishani kbhi hmari baton me,,,kbhi aasu me,,,kbhi gusse me nafrat me,,,kbhi humare astitv me dikh hi jati hai.
    Log or rishte humari zindgi se kbhi puri taraf nahi jate hai.
    Voh hmesha vaha hote hai.
    Fir voh dard ban k rahe ya khushi����
    .
    .
    Isi chiz k upr likha gya hai ye...��

    Read More

    जिस शहर का मैं होने गया था
    एक दिन वहां से भी तबादला हो गया

    बदलता रहा कभी गांव कभी मोहल्ला
    पर मुझमें वो थोड़ा थोड़ा बस्ता गया...!!

    ©deeptimishra

  • deeptimishra 10w

    ��

    Read More

    मेरे जेहन में भरा नफरत
    पिघलता गया,,
    देखा जो,, उसके कर्मों का फल था वो
    मेरा घाव भरता गया...


    ©deeptimishra

  • deeptimishra 11w

    Mera safar bhut lamba hai
    Kisi ka sath nahi,,
    Mujhe bs mere manzil ki aawaj chahiye

    Mai girta padta rehta hu,,
    Mujhe sahara nahi
    Himmat ka libas chahiye

    Mai badi dur se aaya hu,,
    Mujhe aaram me
    Haste chehre or sapno se bhari aakhe chahiye

    Mai shehro me basa ek gaw hu
    Mujhe badlav nahi
    Pyaar or apnapan chahiye

    Mai apne tute khwabo ke Mahal ko jodta rehta hu,,
    Mujhe karigar nahi
    Tumhari sabar chahiye

    Mera Safar bhut lamba hai
    Kisi ka sath nahi,
    Mujhe bs mere manzil ki aawaj chahiye

    ©deeptimishra

  • deeptimishra 11w

    ��

    Read More

    Is raat ne bhi fir vahi sawal pucha hai,,
    Bhrte hai jhakam ya bs in sang jeena sikha hai

    Mita Diya hai jiska naam hatheli se
    Dil se bhi voh nikale ja skte hai kya ?

    Kehte hai Zamana badal jata hai waqt ke sath
    Kya hum pehle jaise hi rehte hai kya ?

    ©deeptimishra

  • deeptimishra 12w

    #itsjustlove

    यादें की तलाश....��

    Read More

    वो बैठी तेरी यादों के संग
    फिर तन्हा रात में
    ढूंढती कुछ तस्वीरें तेरी
    कुछ कांपती सी धड़कने,,
    कुछ सिसकियां भी साथ थी
    कुछ गलतियां भी अब साफ थी,,
    ठहर जाती तेरा नाम पुकारते ही
    सोचती "क्या अब भी बाकी हैं इश्क़ कही "?
    सूखे गुलाब का पत्ता भी ढूंढा
    ढूंढती तेरी हर बात को..,,
    कहीं तेरी आंखे,, कहीं तेरी आवाज को
    बिखरे बालों में ,,तेरी सांसों को
    मेरी उंगलियों पर तेरे निशान को..,,
    ढूंढती तुझसे जुड़े एहसास को
    अपनी हथेली पर लिखे तेरे नाम को
    तेरे बदलते चेहरे के हर रंग को..,,
    तुझ संग बिताए हर पल को
    वो ढूंढती खुद में, तेरी हमसफर को,,
    कुछ अधमरे वादों को
    कुछ दफन हो गए इरादों को,,
    तुझमें खो चुकी , उस बेहोश को
    उस वक्त को, उस होश को
    बैठी तेरी यादों के संग
    वो फिर तन्हा रात में...!!


    ©deeptimishra

  • deeptimishra 12w

    Jab do extreme chizo ko pyaar ho to voh shayd aisa kuch hoga....❣️


    ������

    Read More

    सागर को बांध से मोहब्बत हो जाएं
    जब रैना सूरज के गले लग जाएं
    गगन में पंछियों के घोंसले बन जाएं
    हवां थम्बे,, मुस्कुराए और झूमती जाएं
    डोलती इधर से उधर कुछ मधुर गीत गाएं
    धरती अम्बर को देख शर्मा जाए
    फूलों का रंग पत्तों पर निखरता जाएं
    आए जब पतझड़ का मौसम
    सूखे पत्तों का पेड़ कस कर हाथ थाम ले
    वो मुसाफिर किसी शहर को भा जाएं
    रोती आंखो को, लब हंसना सिखाया
    सागर को बांध से मोहब्बत हो जाए
    जब रैना सूरज के गले लग जाए...!!


    ©deeptimishra

  • deeptimishra 12w

    मेरे बिस्तर पर तेरे निशान हैं
    ये बात जमाने भर से छुपानी हैं

    चाहें दिल से कितना भी इश्क किया हो
    बस जिस्म साफ हो,, फिर कहानी रूहानी हैं..!!

    ©deeptimishra

  • deeptimishra 13w

    ❣️

    Read More

    मेरी मुस्कान मानो
    गुलाब का बगीचा हो
    जो हर ज़िंदगी मे
    अपनी खुशबु भरना
    चहता हो

    और मेरे आंसू मानो
    मधुशाला का कोई एक कोना
    जहां बस सच्चे और पुराने
    आशिक़ ही आया करते हो..
    शायद बरबाद होने,, या
    मुझमें आबाद होने..!!

    ©deeptimishra

  • deeptimishra 13w

    ������

    Read More

    कुछ लकीरें हाथों में बनी थीं
    कुछ लकीरें मैंने बनाई हैं

    हां कुछ किस्मत सी भी होती हैं
    पर कुछ तो किस्मत,, मेहनत से बनाई जाती हैं..!!

    ©deeptimishra

  • deeptimishra 13w

    Random ✌️

    Read More

    There was a time
    When a single thought about you used to make me smile
    And now
    Your memories steal my smile every time.

    I wanted you at any cost
    And now I think
    I have paid too much.

    ©deeptimishra