Grid View
List View
Reposts
  • ekta__ 1d

    मैं चुप हूँ मेरी आवाज़ कहाँ है
    मन भारी है नाराज़ कहाँ है
    और चली जाऊँ मैं छोड़ के तुम को
    इतनी मेरी परवाज़ कहाँ हैं
    ©ekta__

    18/01/22

  • ekta__ 5d

    उन्होंने सोच लिया था के शमा' होना है
    फिर पतंगा होने में ज़्यादा देर नही की हम ने
    ©ekta__

  • ekta__ 1w

    तू थोड़ी देर और ठहर जा...

    Read More

    बाज़ू भी पकड़नी चाही गले भी लगाना चाहा
    बहुत मन था रोकने का पर जाने दिया उसे
    ©ekta__

  • ekta__ 1w

    रह-रह के उसी को याद करना
    कितना आसान है ना ?
    मोहब्बत में वक़्त बर्बाद करना
    ©ekta__

    10/01/22
    01:49 AM

  • ekta__ 1w

    मैं टूट चुका हूँ तो बिखर क्यूँ नही जाता
    वो जाने वाला मन से उतर क्यूँ नहीं जाता

    कल फिर ये सोच कर भीगा हूँ रात भर
    मैला पड़ा नसीब निखर क्यूँ नहीं जाता

    मेरी इस आदत से परेशान हैं घरवाले भी बहुत
    सब जिस तरफ़ जातें हैं मैं उधर क्यूँ नहीं जाता
    ©ekta__

    08/01/22
    01:09 AM

  • ekta__ 2w

    यादें सिरहाने रख के चूमता हूँ रोज़
    तुझे सोचता हूँ हर पल और झूमता हूँ रोज़
    ©ekta__

  • ekta__ 3w

    ये जाता साल ले जाये हर दर्द तुम्हारा
    ज़िन्दगी अब लगे के है गुलज़ार भी बहुत
    ©ekta__

    Read More

    आँखें मासूम भी हैं मेरी गुनहगार भी बहुत
    दिल मज़बूत तो है मग़र लाचार भी बहुत

    मेरी बातों में पागलपन उसे साफ़ दिखता है
    करता है मग़र मुझ पे वो ऐतबार भी बहुत

    किसी रात ख़्वाब में उसे बिछड़ते देखा
    हफ़्तों तलक़ रही थी मैं बीमार भी बहुत

    तेरे हाँथो में हाँथ हो मेरा जब साँस आख़िरी लूँ
    आते-जाते रहेंगे जीवन में यूँ तो किरदार भी बहुत

    मेरी आँखों में देखना और बस देखते रहना
    चुप रह के तुमसे करना है इज़हार भी बहुत
    ©ekta__

  • ekta__ 3w

    तुझे कितना चाहें और हम ...

    Read More

    तुझे चाहते रहने की रस्म कब से जारी है
    कल रात भी हम ने ये सोच के गुज़ारी है
    ©ekta__

  • ekta__ 4w

    थक गए फिर भी चलते रहना है

    Read More

    पता चला के ख़्वाब झूट निकला
    बात भरोसे की थी वो अटूट निकला
    ©ekta__

  • ekta__ 6w

    ना हाँथ पकड़ सके ना नज़रें मिला सके
    बहुत क़रीब से उठ कर चला गया कोई