#bhai

466 posts
  • hr_pen 1w

    Wo...
    Haa wo ...
    Kitna acha h nah ..!
    Meri har baat ko kehne se phele sab samjh jata h ...
    Kitna khayal rakhta h ..,
    Jhagra toh itna krta h ki pucho he mat...!
    Arey ...ek sec ruko kahi tm yh toh nhi samj reh ki mera koi boyfriend h ...
    Nahi nahi koi nhi h...
    .....wo toh mera bhai hai !
    Meri aadhi duniya us k aas pas he ghumti h ...
    Wo ek aisa h...jo mere gusse mai chipa dard dekh leta h ...aur gale laga k kehata h "ro lo sona"...haa pyar dikhata h ...kabhi kabhi
    ...dikhata nhi lekin agar use meri aakho mai aasu dikh jay nah...., toh nah jane wo kitne ghato tak rota h...
    Koi aisa jo mere liye sabse anokha h ...,agar wo nah rha toh mai v kahi kho jaugi...!
    ©hr_pen

  • pagal__chhoraa 2w

    Happy new year bhai

    Kuch baatein shayad
    Hum kabhi kisi se keh nahi paate,
    Dil me rakhte hai apne
    Use kbhi dikha nhi paate

    Jese hum apne dosto ke sath saala mazak to kr lete hai,
    Lekin unki wajah se saal
    Kitna aacha gya humara,
    Ye kabhi jaata hi nhi paate ,
    To aaj yrr is saal ki pehli post tere liye bhai
    Ki thanks mujhe 12 mahine,
    Pareshaan krne ke liye,
    Sab kuch thamm sa gya tha lockdown ke baad
    To thnxs yrr kbhi na badlne ke liye,
    Whatsapp pr or call pr mere liye
    Available jo rehta tha tu,
    Me tera itna dimaag kharab kr deta tha,
    Apni love story ke doubts clear krte krte,
    Or phir bhi mujhe jhelta tha tu,

    Kyunki yrr tu waha tha,
    Jaha koi nhi tha,
    Tu waha sath chla sath mere
    Jaha mujhe koi nhi dikha,
    To thanks dost , mere ye saal aacha krne ke liye
    Inta kuch badlta hua dekha hai maine ,
    Thnx yrr mere liye na badalne ke liye ,
    Happy new year bhai..
    ©pagal__chhoraa

  • iamshrish 5w

    वर्धमान स्कूल...

    वर्धमान स्कूल की खिड़की
    पास उस खिड़की के बहुत ही शांति थी
    बस सर्दी भरे मौसम में अंदर आ रही सर्द हवा थी
    और पार उस खिड़की के खेत और खलीयान थे
    बडे लहजे में बैठे बाहर दो इंसान थे
    शायद दुनिया दारी की बाते कर रहे होगे
    हर प्रश्नो के लिये उत्तर जुबा से निकल रहे होगे
    पर बगल में उनके बच्चे अलग ही आनंद ले रहे थे
    छोटे छोटे बहुत से बच्चे गिल्ली डंडा खेल रहे थे
    पास ही एक छत पर एक नन्ही सी गुड़िया बैठी थी
    बगल उसके खड़ा न ज्यादा बड़ा शायद उससे ऐठी थी
    कौन था वो क्या पता पर शायद उसका भाई होगा
    कुछ पकड़ रखा था उसने उसके लिए कुछ लाया होगा
    आचनक वो गुड़िया गिर गई या यू कहूं की फिसल गई
    खड़े हुआ जो था वो बैठ गया जब नजर पीछे गई
    हाथो में पकड़ी वो वस्तु छत पर है गिर गई
    मुंह से कुछ बोला उसने और आंखे भरने लग गई
    बहन के पैरो को वो सहलाने लगा पर वो पलट गई
    नजर जब भाई के तोफे पर पड़ी वो ठहर गई
    उठी तुरंत भाग के फिर उधर गई
    अब उसे दर्द उसके गिरने का था ही नहीं
    अब तो वो और रोने लगी पर अब दर्द दूसरा था
    बिखरा हुआ था वो जो कुछ भी उसे समेटने लगी
    नम आंखों से अपने भाई को देखने लगी
    भाई भाग उसके आशु पोछने लगा
    शांत कराने की कोशिश अपनी बहन को करने लगा
    पर वो गुड़िया रोए जा रही थी
    की उसने उसे गले से लगा लिया
    आंखे मेरी भी नम होती जा रही थी
    की एक घंटी के आवाज ने रोने का अलग मौका दे दिया
    ग्यारह बज चुके थे घंटी बज गई
    उत्तर देने के लिए एक सुंदर उत्तर पुस्तिका मिल गई।२।
    ©iamshrish

  • shayarsaab 15w

    Ghar..!

    Ek Hi Ghar Mein Rehkar Bhai Bhai
    Anjaan Ho Gaye
    Maa Baap Apne Hi Ghar Mein
    Mehmaan Ho Gaye
    Bachpan Mein Hua Karte They
    Makaan Mein Kamre
    Badey Huye Toh Har Kamre
    Mein Khud Ke Makaan Ho Gaye..!!!
    ©shayarsaab

  • kalambaazi 19w

    Khawaish

    Khwaish jo adhuri reh gayi hai
    Mulakaat jo adhuri reh gayi hai

    Bina bole bta na sakenge
    Raaj sare khol na sakenge

    Jo band h , nazro me kahi
    Use kabhi dikha na sakenge.

    ©kalambaazi

  • sanjeevveer775 21w

    जिया बचपन तुम्ही में,
    ढूंढी अपनी गुजरी बातों को।
    खुशी के पल सभी
    और अपनी तंग रातों को।
    मेरे भाई! तुम्ही ,
    मेरे हृदय के तार तुम्ही हो।
    बहे जो नब्ज में, सांसों में,
    मेरे प्राण तुम्ही हो।

    मैं हर बार लज्जित हूँ तुम्हे झूठा बता कर के,
    तुम्हारे प्यार को,सत्कार को,नीचा बता कर के,
    तुम्ही से मैं! बड़ा,
    तुमसे ही है मेरी! बड़ाई भी,
    है तुमसे प्यार जितना,
    है तुम्ही से उतनी लड़ाई भी,
    मेरे भाई मेरे लाला मेरे उपहार तुम्ही हो।
    बहे जो नब्ज में, सांसों में,
    मेरे प्राण तुम्ही हो।
    ©sanjeevveer775

  • deep_to_soul 21w

    ये लम्हा ज़रा कुछ खास है,
    भाई मेरे हाथों में तेरा हाथ हैं,
    पागल भाई तेरे इस पागलपन से ही तो रहती मेरे चेहरे पर हमेशा मुस्कान है,
    अरे ओ मेरे पागल भाई तेरे लिए मेरे पास कुछ खास हैं,
    तेरे सुकून की ख़ातिर तेरी ये बहन हमेशा तेरे साथ हैं......
    ©deep_to_soul

  • goldenwrites_jakir 21w

    राखी ️

    मेरी बहना मेरी दुनियां - सजाकर लाई पूजा की थाल
    लगाकर माथे पर टिका - उतारती नज़र
    करके आरती अपने भाई की मेरी प्यारी बहना
    बांधकर कलाई में खूबसूरत राखी ----- मेरी प्यारी बहना
    खिलाकर अपने हाथों से मिठाई - निभाती हर इक रस्म मेरी बहना
    आँखों में नमी लबों पर मुस्कान - दुआ हजार करती मेरी बहना
    नारियल पर बांधकर धागा - मांगती अपने भाई से बचन मेरी प्यारी बहना
    देकर तोहफ़े में साड़ी - पाकर ख़ुश होती मेरी प्यारी बहना

    कितना होता खूबसूरत ये प्यार भाई बहन का
    ना लगे कभी किसी की नज़र - ये रिश्ता भाई बहन का
    खुदा मेरी बहनो को दुनियां की हर इक ख़ुशी दे
    उनको और उनके अपनों को हमेसा खुशहाल रखे
    जिए मेरी बहना सौ सौ साल - उनके दिल में वो धड़कन महफूज रखे आमीन सुम्माआमीन
    ©goldenwrites_jakir

  • shabd_waala 24w

    जीवन के इस सफर में
    कुछ अनजाने चेहरे जाने पहचाने बन जाते है।
    किसी को हम यार, किसी को भाई और किसी को गाली देकर बुलाते है।
    कभी हम इनसे दुख बाटते है कभी ये हमको हँसाते है।
    मुश्किल में मदद तो करेंगे पर ये कभी नही जताते है।
    पांच मिनिट का बोलके ये साले 2 घंटे बाद आते है।
    गोआ का प्लान बनाके ये खुद गायब हो जाते है।
    एग्जाम के आंसर से लेकर जीवन की राह दिखाते है।
    तुम्हारी लड़ाई में ये खुद लड़ने आ जाते है।
    रोज़ नही मिलते लेकिन मिलने ज़रूर आते है।
    यूँही थोड़ी ना कुछ अनजाने जाने-पहचाने हो जाते है।
    ©shabd_waala

  • unknown_writter_exist 24w

    Whish you a very happy international Friendship Day....
    Tag your best friend.❤️❤️❤️
    #friendshipday #happyfriendshipday #friendship#friends #yaar #dost #bhai

    Read More

    The antidote for 50 enemies is ONE friend
    - Aristotle

  • shiana_28 32w



    Bro is a letter.
    Bhai is a feeling❤
    ©shiana_28

  • sukoon_thoughts 34w

    Kaash

    Kaash mera bhi koi bhai hota, Jo har waqt mere paas hota.. Paresan karta sare din apni shaitaniyon se, par phir bhi wo kabhi mujhse nara na hota. Meri har musibat mai saath hota wo, Or uska kandha sirf mera hota.. Girta agar mai thokar kha kar kabhi, To mujhe sambhalane mai uska haath hota. Or usne har waqt mere saath rahane ka waada kiya hota.. Kaash mera bhi koi bhai hota,
    ©sukoon_thoughts

  • shivanijha 36w

    #mirakee#mirakquil#miraakeenetwork #brother sister love.... ❣️
    #bhai... Teri Meri banti nahi.... Par Tere Bina Meri chalti nahi.... ����
    #best Jodi in the world ��

    Read More

    Bhaai❣️

    Baat-baat par mujhe rulata hai, par mere aansu pochne vala bhi Mera Bhai hi hota hai.....

    Baat-baat par mujhe chidhata hai,par mujhe hasaane vaala bhi Mera Bhai hi hota hai.....

    Hamesha mummy se Meri chugli karta hai,par mummy ki daat se bachaane vala bhi Mera Bhai hi hota hai.....

    Mere saare raaaz janta hai,par sabke saamne mere raaz kholne ki dhamki dene vala bhi Mera Bhai hi hota hai....

    Mujhse khoob ladaai karta hai,par mujhse sabse jyada pyaar karne vaala bhi Mera Bhai hi hota hai.... ❣️

    Haaye.... Ye Bhai behan ka rishta bhi naa kitna ajeeb hota hai❤️
    @shivani jha

  • amanak47 37w

    Humne to sirf uske haal puche the
    Usne to apne bhai ko
    Keh kar bnde bula liye..
    Vo to shukr maano hum sharif the
    Uske purane aashiq na bula liye..


    ©amanak47

  • gpdoriya 38w

    भाइ - पापा के बाद गर कोइ सच्चा सहारा होता है तो वो भाइ होता है। हर सुख दुख मे साथ देता है। लडता है, झगडता है ढेर सारी शरारत के साथ प्यार भी बहुत सारा करता है । मेरे भाइ से तो मै बहुत ही प्रभावीत हु। उसका काम करने का तरीका, बात करने का तरीका सब से प्रभावीत होता हु मै। उसके जैसा तो नही बनना मुजे पर हां उसकी राह पर जरुर चलना है....

    #Brothers #Bhai #feeling #family #friendship #love #hindi #poetry

    Read More

    Brothers

    तेरे साथ गुजारा हुआ ऐक पल
    हर एक लम्हा प्यार से भरा है
    तेरे बोलने का अंदाज
    बात करने का अंदाज
    सब से प्रभावित होता हु मै
    तेरे जैसा बनना नही पर
    तेरे ही नक्षेकदम पर
    चलना चाहता हु मै
    भाइ मेरे बनकर तेरी ही परछाइ
    तेरे साथ साथ चलना चाहता हु मै
    ©gpdoriya

  • beingkashyap 41w

    Relation

    अपनो का हाथ पकड़ के चलिए !
    लोगों के पैर पकड़ने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

    ©beingkashyap

  • shreya4 48w

    .

  • writer_ankita 51w

    A sibling is a blessing, and you know that another one there for you whenever you are in some trouble #writerankita #knockonthewood #bhai #siblingsbond

    Read More

    He knows how to make me smile when I am sad
    ©writer_ankita

  • barbad 52w

    #original feeling hai, so #editing nahi kiya
    #bhai ka hai
    #औकात बदलते देर नहीं लगती, साहब!
    सो लिहाजा हालात देखकर हँसना

    Read More

    अभी एक दम नई-नई निकाली है, एक साल भी नहीं हुए रोवर को... सफेद है तो धूप में थोड़ी चमकती ज्यादा है... हाँलाकि! अंदर बैठने पर इसका कोई इफेक्ट नहीं पड़ता... लेकिन बाहर से देखने वालों का चेहरा बताता है के मैं और मेरा वक्त दोनों ही बदल गये है...।
    बात तब की थी जब मैं स्कूल आने-जाने के लिये हरे रंग का रॉयल साइकिल यूज करता था... चूँकि स्कूल घर से दूर पड़ता था तो आदमी स्कूल पहूँचतें-पहूँचतें पसीने में तर ब तर हो ही जाता था...! उसी दरम्यान मुझे एक लड़की पसंद आ गई थी, युवा-वस्था में ये कोई नई बात नहीं हैं। हर किसी के साथ हो जाता है।
    हर रोज की तरह मैं उस दिन भी स्कूल जा ही रहा था के साइकिल के चैन ने कट कट करते हुए धोखा दे दिया, माने के चैन ऊतर गया... मैंने चैन चढ़ाया और पसीना पोछतें हुए आगे का रास्ता नाप लिया... स्कूल पहूँचा तब तक स्कूल बस से वो ऊतरते दिखी... मैंने हाथ हवा में हिलाते हुए हैलो बोला... वो जवाब देने से पहले ही हँसने लगी... और पास आकर बोली शक्ल देखकर औकात के अनुसार लोगों को हैलो बोलो।
    मुझे ये बात तब समझ में आई जब मेरे एक दोस्त ने कहा मुझसे की मुँह धो ले, मुँह में करीखा लागल बा! मुझे चैन का ध्यान आया तो सब कुछ नारमल लगा...ओह! तो चैन चढ़ाते समय अॉयल लग गया होगा हाथों में और पसीना पोंछते में हाथों को टाटा बोलते हुए मुँह से चिपक गया होगा... फिर भी उसको ऐसे नहीं बोलना चाहिये था, सोचते-सोचते मुँह साफ किया और उस ज़िन्दगी को भी...
    अभी छठ के टाईम जब घर गया था तो वहीं दिखी मुझे जाम में क्रास करते हुए ... अपने सूमो में आगे बैठी हुई... उसनें पहचानते हुए मुझको हैलो का इशारा किया तो मैंने शीशा डाऊन करते ही कहा, "औकात में आओ", फिर बात! करते है...

  • anmolsaini 53w

    दोस्त

    तु उसकी शक्ल ना दिखाया कर मुझे ये दिल बहक सा उठता है,
    जिसे दोस्त नहीं भाई समझता था वो अब मुझसे दूर रहा करता है।
    @Anmol Saini