#collab

4040 posts
  • goldenwrites_jakir 4d

    #Collab ✍️

    #pathak01 G
    किसी ने मुफ्त में वो शख्स पाया ....
    जो हर कीमत पे मुझको चाहिए था |

    लगाकर बोली वो मेरी , मुझे खरीद ना सका
    मांग कर दुआओं में , उसने मुझे अपना बना लिया |
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 5d

    #Collab ✍️

    #Pathak01 G ✍️
    वफ़ा की ख़ैर मनाता हूँ , बेवफाई में भी
    मैं उसकी क़ैद में हूँ , क़ैद से रिहाई में भी |
    रूह बेचैन मचल रही इंतजार की आग में
    और तन्हाई दर्द की बरसात कर रही ज़िन्दगी में भी
    कैसे रूबरू मैं - उससे हो जाऊं
    हजार मिलो की दूरी और तक़दीर में लिखी जुदाई भी |
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 5d

    #Collab ✍️

    #pathak01 G ✍️
    ना कर शिकवा , गुलाबों की बेनियाजी पर ,,
    हसीन जो भी होते हैं , जरा मगरूर होते हैं ... |

    खूबसूरत चादर पर सजाया जाता हूँ मैं
    किसी हमदम के रुखसार पर सज़ा हूँ मैं
    बेनियाज मैं नही बेनियाज मुझको बनाया गया |

  • goldenwrites_jakir 1w

    #collab with @pritty_sandilya my dear sister ��

    Read More

    #Collab ✍️

    #pritty_sandliya G ✍️
    ज़िन्दगी चल रही थी मेरी तेरे बगैर भी ,
    बस तूने अपना कहकर बेचैन कर दया |
    सिलह मिला ये कैसा सोचती हर पल ज़िन्दगी है
    भुला बिसरा लौट आया सुबह का शाम जैसा |
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 1w

    #jp #Collab with @gauravs G ✍️✍️✍️✍️

    दिल का करीबी शख्स ही , दिल टूटने कि बजह बन गया
    देकर तोहफ़े मैं तन्हाई ता उम्र आँखों में आँसू "तन्हा छोड़ गया

    Read More

    #Collab ✍️

    #Gauravs G ✍️
    सौदे बाज़ी में वो शातिर कितना माहिर हो गया
    करके हमें ख़ुद से जुदा लम्बी उम्र की दुआ दे गया |

    कैसे दिखाएं अब उसे अपने दिल के ज़ख्म को
    जो खुद ही मरहम था वो दर्द देकर चला गया |
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 1w

    #jp #Collab with @jigna_a दी " ��

    Read More

    #Collab ✍️

    #jigna_a दी " ✍️
    जो ख़्वाब मुकम्मल नही हो पाते,
    अश्कों के मोती बन निगाहों का नूर बन जाते हैं |

    सिमट कर कलम से कागज़ पर रंग वफ़ा के लिख जाते
    अश्क लफ़्ज़ों कि धारा बन कर दिल के ज़ज़्बात कह जाते हैं
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 1w

    #Collab ✍️

    #harish8588 G
    कभी सोचा ना था , की इक रोज ये होगा
    वो मेरा होगा , मगर मेरे साथ ना होगा
    रोएंगी ये आँखे ता उम्र उसके इंतज़ार में
    और सनम मेरा , इन आँखों से दूर होगा
    कैसे उसको भुल जाऊं उसको याद ना करूँ
    वो हमदम हमनशी मेरा किसी और का होगा
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 1w

    ##Collab with @gauravs भाई G ��

    Read More

    #Collab ✍️

    #Gauravs भाई G
    तुझसे होकर गुजरने से अब सहम जाता हूँ मैं
    तू हाल मेरा अगर पुछले तो , कहीं रो ना दूँ मैं

    ज़ख्म दिल के गहरे इतने रूह से लहू बहता है
    बता अब तू ही हम दम तुझसे मिलने कैसे आऊं मैं

    ज़िन्दगी किस मोड़ पर हमें लेकर है आई
    मिलकर भी हम मिले नही वो तक़दीर
    हमारी ज़िन्दगी में लिख कर है आई
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 1w

    @jigna_a #jp #jakir #Collab with @mamtapoet G

    अगर मिलजाए कहीं फिर तुम्हारे दिल में मेरा पता
    लिख देना इक प्रेम पत्र तुम भी जरा .....

    Read More

    #Collab ✍️

    #mamtapoet G
    देखो , फिर से सिमट आई हूँ मैं,
    सफ़ेद पन्ने पर ,,,
    स्याही बनके तुम भी आ जाओ
    और मिलकर रचाते हैं खूबसूरत ,
    शब्दों का विन्यास ...

    बंद लिफाफे में करके क़ैद भुल ना जाना
    तुमसे मिलने बड़ी दूर आई हूँ मैं ,,
    लेकर अपने ज़ज़्बात दिल के एहसास
    तुम्हारे अंदर महसूस होने आई हूँ मैं ,,,,
    बनकर लफ़्ज़ों कि माला
    शब्दो से सवर कर तुम्हारे पास आई हूँ मैं .....
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 1w

    #Collab ✍️

    ख्वाईश तो है कि ऐसा कोई खयाल भी ना हो ,
    इक दिन ग़र तुझे ना सोचूं तो मलाल भी ना हो |
    #singhashwni G

    रहे हरदम तू दिल के पास , तेरा साया मेरी परछाई हो
    ख़्वाब तेरे ख्वाईश मेरी ऐसा हमारी ज़िन्दगी का आईना हो
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 1w

    #Collab ✍️

    फिरसे आगोश-ए-सितम में हूँ , जो मर्जी सज़ा दो मुझको
    शायद ये अच्छा रहेगा अहबाब , कोई बद्दुआ दो मुझको
    #parle_G

    जो दुआ भी भारी लगने लगे , इक दवा बताता हूँ तुझको
    मुख फेर कभी ना अपनों से , पर्दा ही दे रहा अंधेरा तुझको
    #anandbarun गुरु G

    कर बेसहारा मुझको , सब चल दिए अपने शहर में
    काश कोई मेरे शहर आने की ..... बद्दुआ दे तुझको
    #singhashwni G

    दवा भी बेअसर ज़िन्दगी में , कोई तो दुआ दो मुझको
    ज़ब अपने ही बेगाने हो गए, कोई तो सहारा दो मुझको
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 1w

    #Collab with @jigna_a दी " @anandbarun गुरु G ��

    Read More

    #Collab ✍️

    #jigna_a दी "
    हर रात निपटती रही तुझे याद कर ,
    और दिन भी गुजारता उसकी फ़रियाद कर ..

    #anandbarun गुरु G
    जो बादलों में लिखता रहा सकूँ से ,
    वो ख़्वाब ही थे जो बैरन हवाएं बहा ले गए |

    यादों की बरसात दिन रात खुदा से फ़रियाद करती रही
    सुकून के पल बिखर गए जो ख़्वाबों के उसे महसूस करती रही..
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 2w

    #Collab ✍️

    #Harish8588 G
    तू चाहता है , की मैं तुझसे मोहब्बत ना करूँ
    फिर ये बात , तू मोहब्बत सेे कहता क्यों नही
    नफ़रत कब तलक , दिल में बीती बातों की रखेगा
    मुझे माफ़ करके , फिर तू गले लगाता क्यों नही
    ©goldenwrites_jakir

  • dil_k_ahsaas 2w

    जब तक दीदार ना करूँ तेरा,वक्त नहीं काटा जाता,
    तेरी तलब है या तेरी याद,
    कि अब इस दिल को सुकून नहीं आता।

    © guftgu




    सुकून जा कर छिप गया, तलब की पीठ के पीछे
    ना दीदार हुआ ना तलब मिटी, सुकून मिलता कैसे।

    दिल के एहसास। रेखा खन्ना
    ©dil_k_ahsaas

  • gauravs 2w

    #collab ✍��✍��

    @dil_k_ahsaas ��बहुत बहुत शुक्रिया आपका

    Read More

    मेरी आह सुन कर आह भरने वाले
    अक्सर पीठ पीछे चार बातें बनाते हैं
    मेरी आह सुन कर दुआ मांगने वाले
    पीठ पीछे , दुआ को बेकार बताते हैं
    ©dil_k_ahsaas

    हैरत से देखते है मेरी आह को देखने वाले
    बस ये नहीं देखते की आह की राह क्या है
    ©gauravs

  • goldenwrites_jakir 2w

    #Collab with @iamfirebird गुस्ताखी माफ़ ��

    Read More

    #Collab✍️

    #iamfirebird
    ये कैसी तस्वीर ...........................बन आई है
    सारे जहां की रंगीनी तेरे ज़िस्म पर उतर आई है ..

    कभी लिखता था "तू नाम बस दिल पर मेरा
    आज तेरी कलम में किसी और नाम की आहट आई है
    कैसे मिटाएगा मेरी रूह से हर इक अल्फाज़
    क्या अब तेरी ख्वाईशो में जिस्म की रंगीनी उतर आई है ..
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 2w

    #Collab with @guftgu G
    गुस्ताखी माफ़ ��

    Read More

    #Collab ✍️

    #Guftgu
    बड़ा ही महंगा पड़ा इश्क़ हमें ,,
    हमारे हिस्से में सिर्फ इंतजार आया .. !

    दुआओं का काफिला मुद्दतों से ख़ारिज होता गया
    मेरी ज़िन्दगी में तन्हाई बिखरे ख़्वाबों का साहिल आया
    और अब क्या इल्जाम दूँ "तक़दीर कि लकीरों को
    ज़ब मेरे हिस्से में "अधूरी मोहब्बत का हिसाब आया ..!¡!
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 3w

    #Collab ✍️

    #iamfirebird
    इश्क़ का कारवाँ था जो हालातों ने लूट लिया
    पहले शायरी छुटी थी, कल शायर भी छूट गया
    बदलते खोते भुला देते होंगे औरो के आशिक
    हाय मेरा ये खूबसूरत भरम भी ...... टूट गया !¡!

    इश्क़ का कारवाँ था "जो हालातों ने लूट लिया
    दिल टूटा ख़्वाब बिखरे ज़िन्दगी का आईना बदल गया
    बदल जाते होंगे आशिक औरों के तन्हाई कि रातों में
    हमने उन्हें शायरी के आँगन में अमर कर दिया ..!¡!
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 3w

    #Collab ✍️

    #psprem
    दिल में एहसास होना चाहिए ,,,,
    प्यार करने के लिए !
    इश्क़ अल्फाजों से नही किया जाता ?

    ख़ामोशी जो पढ़ ले वो इश्क़ मुकम्मल है
    दिल के दर्द को मुस्कुराहट में बदल दे वो इश्क़ खुदा है
    अल्फाज़ बनकर उभर आते ज़ज़्बात दिल के
    जो समझ सके एहसास दिल के वो इश्क़ अमर है ..
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 3w

    #Collab ✍️

    #harish8588
    नाराजगी भी इक अजीब मोहब्बत है जनाब ,
    नफरत के लिए भी उसे याद करना होता है ..

    नफ़रत कि दीवारों को उसकी नाराजगी से मिटाना होगा
    करके फिर उससे सुलह उसे मोहब्बत से सजाना होगा
    ❤❤❤❤❤❤❤❤❤
    ज़िन्दगी चार दिनों कि दो इकरार में इक इंतज़ार में
    इक उसके संग अब मोहब्बत से गुजरना होगा ...!¡!
    ©goldenwrites_jakir