#currentvibes

7 posts
  • devil_girl_28 16w



    Lagta hai Khin Bewafai hai
    Tabhi toh ye Tej ayi hai

    ©devil_girl_28

  • sagar_parasher 22w

    प्यार के इतने रूपों में सबसे मस्ती भरा रुप ये रूठना मनाना है। इसके बिना भी जिंदगी कुछ बेरंग सी लगती है। तो पेश है कुछ लाइनें 'रूठना मनाना'

    #हिंदी #hindi #hindipoetry #poetry #dilkibaat #feelings #botd #currentvibes #sagarkivaani #sagarparasher

    Read More

    रूठना मनाना

    रुठे हो हमसे जाना
    लेकर फिर एक नया बहाना
    कैसे उलझन में फंसा है देखो
    ये बेचारा दिवाना
    प्यार के अनेक रंगों में
    ये रंग है सबसे सुहाना
    उनका यूं बार बार रूठना
    फिर मेरा उनको मनाना।

    रूठना हक है तुम्हारा
    तुम रूठ जाया करो
    प्यार के इस रंग को
    बेशक खुब बरसाया करो
    पर ध्यान से एक बात सुनो
    और एक हमसे ये वादा करो
    कि चार दिन की है जिंदगी
    ना यूं झगड़ों में जाया करो
    मुझे मनाना नहीं आता
    ना ज्यादा सताया करो
    जो करूं मनाने की कोशिश
    तो मान जाया करो,

    और घुलने दो इस प्यार को
    यूं ही जिंदगी में जाना
    इन्हीं छोटे प्यारे किस्सों से
    जिंदगी का सफर बनता है सुहाना
    लेकिन ज्यादा रूठे तो
    हमें भी आता है सताना
    यूं ही सलामत रहे ये प्यार
    तेरा रूठना मेरा मनाना
    मेरा रूठना तेरा मनाना।

    ©sagar_parasher

  • sagar_parasher 24w

    पहली मुलाकात

    कमाल की रही वो पहली मुलाकात हमारी
    आज भी हंसता हूं याद करके वो बात प्यारी
    यूं तो नहीं था हमें लिखने का शौक
    पर लिखना सिखा दिया आंखों ने तुम्हारी।

    वो रात थी चांदनी बड़ी प्यारी
    चुपके से बहुत कुछ कह गई थी खामोशी तुम्हारी
    अंजान एक दुजे की बातों को हम जाने कैसे समझे थे
    कुछ तो जादू था उस प्यारी हंसी में तुम्हारी
    कमाल की रही वो पहली मुलाकात हमारी।

    जाने किस डोर से बंधी है किस्मत हमारी
    जो यूं हमसे टकरा गई नजरें तुम्हारी
    कुछ तो खास था इन अंजानी राहों में
    जो ऐसे एक कर दी मंजिलें हमारी
    कमाल की रही वो पहली मुलाकात हमारी।

    ©sagar_parasher

  • sagar_parasher 24w

    उनकी यादें

    ये उनकी यादें देखो
    हमको कितना सताती है,
    ले जाती है चैन
    जब भी दिल में आती हैं,
    खो जाती है सारी ख्वाहिशें
    जब भी मन को तड़पाती हैं,
    ले जाती है ख्वाब
    जब आंखों को रूलाती हैं,
    खो जाती वो प्यारी धुन
    जब कानों में आती हैं,
    चुपके से आकर
    मेरे लब से बात चुराती है,
    प्यारी सी वो सोंधी खुशबू
    जाने कहां गुम हो जाती हैं,
    हर घड़ी हर पहर
    हमें कितना तड़पाती है,
    ले जाती है नींदें तक
    जब रातों में आती हैं।

    ©sagar_parasher

  • sagar_parasher 25w

    नई शुरुआत

    ख़्वाबों से भरी
    उम्मीदों से सजी
    ये है अजब सुहानी रात।

    उलझन में हैं मन
    नींदें भी है गुम
    और गजब हैं मेरे ख्यालात।

    हर दिशा में घुम रहे
    खुली हवा में बह रहे
    ना बस में मेरे है कुछ आज।

    सिर थोड़ा चकरा रहा
    जाने क्यों मैं उलझा जा रहा
    और ना कोई सुनने वाला है पास।

    ना कोई समझ रहा
    ना मैं समझा पा रहा
    कैसे उलझे हैं आज हालात।

    कागज कलम का लिया सहारा
    और कोरे पन्नों पर है उतारा
    ये जो उलझे हैं मेरे अल्फाज़।

    खुद में ही डुबा
    हूं रातों में खोया
    कल से है एक नई शुरुआत।
    ©sagar_parasher

  • sagar_parasher 25w

    नई शुरुआत

    मन में दबी
    रहती थी हर बात
    सुनने वाला हाल ए दिल
    ना साथी था कोई पास
    तन्हा रातों में तारों संग
    हम खुद से ही बतियाते थे
    भरी चांदनी में ख्वाबों संग
    कुछ यूं दिल को बहलाते थे
    पर बदल रही है जिंदगी
    दिल बुन रहा है नए ख्वाब
    तन्हा मेरी जिंदगी में
    आने वाला साथी है एक खास
    एक से दो हुई दुनिया
    दो में एक होने की है बात
    पर थोड़ा सा है डर मन में
    कल से है एक नई शुरुआत।
    ©sagar_parasher

  • mandypoo 85w

    LATE NIGHT

    It's 11:40 pm
    Moon's all over us
    Providing its warm light
    Chilling cool wind
    And me with my w**d
    Enjoy
    ©mandypoo