#indianarmylove

4 posts
  • shardul_rajput_04 91w

    फौजी और वर्दी

    मेरा सपना था बचपन से फौज में जाने का
    कुछ उम्मीदें वर्दी से मिल गई थी......
    फौज में जाने से मुझे रोक भी कोन लेता
    सपथ तो मैंने पहले ही खाई हुई थी....

    पर फौजी बनना इतना आसान तो नहीं
    कुछ शौक तो मेरे भी छूटे होंगे...
    इतना तो रब किसी पर मेहरबान नहीं
    कुछ सपने तो मेरे भी टूटे होंगे.....

    जब पूछा मुझसे किसी ने वेतन,
    तो मेडल मैंने भी गिनाए...
    जब लगे थे सेना पर रेप के आरोप,
    तो आंसू मैंने भी गिराए.....

    चोट मुझे तब भी लगी,
    जब किसी ने मुझसे मेरा धर्म पूछा....
    मैं मानता था बस भारत को धर्म,
    क्या मैंने ऐसा भी कभी सोचा....

    हां, मेरी ज़िन्दगी में भी रही एक लड़की,
    अरे! मैं तो दिल से फौजी था... प्यार मुझे भी हुआ.....
    किये उसने मुझसे शादी तक के वादे,
    उनके टूटने पर दर्द मुझे भी हुआ.......

    जब टूट जाना हार थी हर लम्हे की,
    विकल्प था हर बार हार मानने का,
    टूटकर गिरना.. फिर खड़ा हो जाना,
    ये आदत नहीं मेरा हौसला था.........................
    फिर भी घुटने ना टिका पाया कोई,
    मुझ पर लगने वाला हर आरोप, मेरे आगे खोखला था......

    तोड़ना तो काम है वक़्त का,
    उसको दिये जवाब हमें इंसान बनाते हैं...
    किसी में थोड़ी उम्मीद रहती हैं,
    वरना, सब पहले ही राह छोड़ जाते हैं.....
    कुछ ऐसे भी है , जो चलते रहते हैं,
    पर वक़्त आने पर वो भी आंख मोड़ जाते हैं.....

    लेकिन जो दिल, टूटने पर भी देश को चाहे,
    ऐसे दिल अक्सर छाप छोड़ जाते हैं.....

    ©shardul_rajput_04

  • deepti_bahuguna 106w

    Army girl

    While her friends wore heels,
    She wore combat boots.
    While her friends used highlighter to glow,
    The stars on her shoulders made her shine.
    While her friends wanted boys attention,
    She earned salutes from boys.
    While her friends joined clubs and bars,
    She joined defence forces.

    ©deepti_bahuguna

  • ankit_hai_ 112w

    में राष्ट्रवादी बनु या मानवतावादी मुझे समझ नहीं आता कभी कभी
    सैनिक होता कोई शहीद खून खोल उठता है मेरा तभी
    पर फिर सोचता हु उस पार भी तो होती होगी यही स्थिति
    आवेग में आकर वहा भी जनता करती होगी मांग युद्ध की
    पर युद्ध हुआ तो क्या होगा
    लाशो का अम्बार होगा
    कुछ शहीद होंगे यहाँ से कुछ लहू वहा भी गिरेगा
    फिर अंत में कोई समझौता होगा
    चाय समोसे खाएंगे नेता, गले मिलकर युद्ध का अंत होगा
    क्यों न वो समझौता अभी होजाय
    चिराग किसी के घर का बूझने से बच जाय
    सामान्य जनता इतनी भी आवेग में ना आये
    या फिर किसीको अपने घर से सेना में भर्ती करवाए
    कुछ भड़काऊ नेतागण भी अपनी भागीदारी सेना में दर्शाए
    जहा तक हो सके कोशिश युद्ध को अवश्य ही टाला जाय
    "फिर भी न माने यदि नीच कोई और सब उपाय विफल होजाय
    तब कही जाकर अंतिम उपाय युद्ध का किया जाय "

    "मुझे संदेह नहीं सेना पर अपनी पर यह बात भी सिद्ध है
    युद्ध से उद्धार नहीं केवल देश बर्बाद हुए "
    जय हिन्द जय हिन्द की सेना
    ©ankit_hai_

  • rishiraj17 116w

    Indian Army

    Jo ab tak na khola wo khun nhi pani hai,
    Jo Desh ke kaam na aaye wo bekar jawani hai,
    Jal rhe the diye gharo me chamakti hue sham thi,
    Udas hai aaj bhi us ghar ka diya sharhad per jinke jawan the,
    Maut ko behad karib se chum kar aaj bhi wo aate hai,
    Lakho ke bich aaj bhi fauji pahchane jate hai,
    Har aatanki ko maut ke ghat utarte hai,
    Tiranga ko wo shan se fahrate hai.
    - Mere lafz
    @hit_man_rishi