#neta

14 posts
  • anuradhasharma 34w

    देश शब्दों की सौदेबाज़ी से चल रही हैं ,

    हमारे नेता हमें इसी तराजूं से तौलते हैं।




    ©anuradhasharma

  • goldenwrites_jakir 46w

    आंदोलन

    क्या खूब करता था वो आंदोलन
    गलत को सही बता कर - झूठ को सच बनाता था
    बनकर बैठा आज राज गद्दी पर
    महंगाई की जिसे कल फिक्र ज्यादा थी
    आज भुल कर अत्याचार जनता पर
    मन की बात वो कहता पर्दों पर
    क्या खूब खेला है खेला --- बेचकर सरकारी संपत्ति
    दिखा रहा कोरोना का खेल मधारी ...... !¡!
    ©goldenwrites_jakir

  • saurabhkashyap21 92w

    Khud ko suli par chadha kar,
    Karodo ke liye misaal ban gaye;
    Jo Bacha sakte the,na bacha kar;
    neta bemisaal ban gaye!!!
    ©saurabhkashyap21

  • ashtalks 101w

    आत्म निर्भर

    राफेल राफेल बहुत हुआ
    अब काम थोड़ा जनता का भी कर लो
    करोड़ो का पुल तो गिरा दिया
    अब उसकी थोड़ी भरपाई भी कर लो
    अभी वक्त है थोड़ा सम्भलने का
    कब तक एक अच्छे काम के पीछे सारे गलत फ़ैसले छुपाओगे
    कहीं ऐसा ना कि अगली बार बोले जनता
    थोड़ा आत्म निर्भर आप भी बन लो .…...
    ©ashtalks

  • chahat_samrat 111w

    #मजदूर# सियासत

    पसीना भी उन्होंने ही बहाया था
    आंसू भी वहीं बहा रहे थे
    खून भी उन्हें ही बहाना पड़ रहा है
    सब तो वो खुद का बहा रहे है
    इतने कर्ज वो खुद हम पर चढ़ा कर
    सबको,गलियों, घरों को बनाकर

    इस बहाने की दौड़ में
    तुम सियासी दलों ने तो केवल इस
    भूमि का अनमोल जल
    अपनी गाड़ियों को धोने
    में बहाया है
    ©chahat1samrat

  • ajay_nehra 125w

    MEDIA

    कुछ नेता अपने जूतों पर जहर लगा ले तो

    आधी से ज्यादा मीडिया मर जाएगी

  • 0emotions 163w

    Raajneeti

    Aaj ki rajneeti ka janab kuch aisa starr h..

    Bhrashtaachaari me neta ek dusre se behtar h..

    Bedaag nhi koi daman.. Par topi inke sar h...

    He chulhe jalte inke..kyunki bharti janta kar h...


    ©0emotions

  • bhimesh 172w

    Neta aur Holi

    ना लगाओ रंग इन नेताओं को
    ये खुद ही रंग बदलते है

    चुनाव आते ही
    ये अपने ढंग बदलते है

    ©bhimesh bhitre

  • deepakpremivirh 180w

    समय

    समय-समय की बात हैं नेता खाये भात,
    नंगे-भूखे मर रहे जो माँगे खैरात।।
    ©deepakpremivirh

  • jy0tiar0ra 180w

    हद होती है

    हद होती है
    चालाकियां चलाने की।
    हद होती है
    झूठ से बरगलाने की।
    तुम्हारे वादे भी देखे
    इरादे भी देखे।
    शतरंज पर नाचते
    तुम्हारे प्यादे भी देखे।
    हद होती है
    बिसात बिछाने की
    हद होती है
    सच को झुटलाने की।
    नेता भी तुम
    अभिनेता भी तुम।
    हाथ जोड़े खरे
    प्रपंच रचयिता भी तुम।
    हद होती है
    धर्म से अधर्म कराने की।
    हद होती है
    अपने ही देश को सुलगाने की।
    हद होती है
    जनता को नचाने की।
    हद होती है
    नेतागिरी में नेता के गिरे जाने की।
    ©jy0tiar0ra
    (jyotiarora.com)

  • alfaaz__dil__se 188w

    बात

    आज ना इश्क़ ना इश्क़ के मारों की बात होगी।
    आज झूठी खबर और झूठे अख़बारों की बात होगी।

    जो पिसते है खराब फ़सल और कर्जे की मार के बीच,
    उन लाचार खुद्दार जमींदारों की बात होगी।

    सपनें झूठे दिखाकर जो जनता को लूट लेते है,
    उन फ़रेबी झूठे नेता मक्कारों की बात होगी।

    वोट मांगने चौखट पर आ जाते है पांच साल में,
    रोज़ वादों से मुकरती सरकारों की बात होगी।

    सीना छलनी हो जाए डटे रहते है सरहद पर,
    रक्षा करने वाले धरती माँ के प्यारों की बात होगी।

    जिसके नीचे कुचली जाती है गरीब की ज़िन्दगी,
    अमीरों की महंगी कारों की बात होगी।

    जो मज़बूरी में उठाते है और आतंकवादी कहलाते है,
    मज़लूमों के उठाए हथियारों की बात होगी।

    अब तक जो कभी लिखा नही तूने "अल्फ़ाज़",
    आज उन सब मुद्दों सारों की बात होगी।।
    ©alfaaz__dil__se

  • anandbhushan 193w

    #mirakee
    #mirakeeworld
    #neta #woman. #स्त्री #सम्मान
    #writersnetwork.

    Read More

    चाहत

    चाहत है बड़े देश हमारा।
    चाहत है हो खुशहाल सब देशवासी।
    चाहत है सब को मिले ज्ञान।
    चाहत है सबको मिले सम्मान।

    चाहतो में हाय हम क्या कर बैठे ।
    चाहतो में हम यह क्या खो बैठे।
    इन चाहतो के चक्कर में
    हम अपना वोट किन्हें दे बैठे।

    चाहते है ईमानदार नायक
    पर हम अपना वोट उन बेईमानो को दे बैठे
    जो झूठ बोले, काला धन पर चुनाव लड़े, जाति, धर्म पर हमें लड़ाते, गलत शपथ पत्र कानून को दिखाते।

    एमपी ऐसे जो 15 करोड़ खर्ज कर 2 करोड़ का हिसाब दिखाते।
    वही बाद में सरकार चलाते अपने धन दाता का भला कराते।

    शिक्षा को वही महंगा बनाते आम जन से शिक्षा दूर भगाते।
    गवारो को धर्म के नाम पर खूब भड़काते देखो आज ये नेता खूब बलखाते।

    स्त्रियों का समाज में गिरा सम्मान है, स्त्रियों के नाम पर यह वोट कमाते।
    स्त्रियां अगर आगे न् आई । तो यह दानव नेता उन्हें सम्मान न् दिलाएंगे।
    ©anandbhushan

  • yenksingh 194w

    नेता-हाइकु

    नेता-हाइकु

    1.जन भू पर
    मंच पे बैठे खास
     ये है विकास।

    2.ट्रैफिक जाम
    गाड़ियों का हुजूम
    ठहरी साँस।

    3.जल प्रलय
    दौरा सत्तानशीन
    गोद आसीन।

    4.विमान में वे
    धरा पे हाहाकार
      दिव्य दर्शन।

    5. जन बेबस
    सत्ता मालामाल
     तंत्र का हाल।

    6- अनेक वादे
    अनकहे इरादे
     गधे को घास।

    7. नेता ऊपर
    उठते निरंतर
    प्रजा भू पर।

    -©नवल किशोर सिंह
    ©yenksingh

  • prabhas 245w

    देखो तो कितनी महंगाई है,
    एक नेता की कीमत 1 करोड़ लगाई है,

    सबसे विकसित राज्य में भी
    योजनाओं की बाढ़ आई है,

    22 सालों में जो काम पूरा ना हुआ
    उसके लिए 5 साल की और दुहाई है,

    राजतंत्र का खेल ही भ्रष्ट है मिरौं,
    जो भी शहें'शाह' आया उसने मलाई खाई है।
    ©prabhas