#rachanaprati122

13 posts
  • anusugandh 23w

    #rachanaprati122
    #rachanaprati123
    @gannudairy_
    रचनाप्रति का विजेता बनाने के लिए गौरव जी का बहुत-बहुत धन्यवाद��

    आप सभी अपने-अपने मित्रों को कृपा करके टैग कर दीजिए

    Read More

    विषय--इंतज़ार
    समय सीमा--कल रात 9 बजे तक

    इंतजार इन आंखों का क्या कहिए
    दिल ए बेकरार.. ...... क्या कहिए
    दिन रात खुली रहती हैं तेरे इंतजार में
    हुआ दिल बेहाल .........क्या कहिए
    ©anusugandh

  • gannudairy_ 23w

    #rachanaprati123

    आप सभी ने इस संचालन में मेरा साथ दिया दिल से आभार!

    @anandbarun sir @anusugandh @mamtapoet @alkatripathi79 @jigna_a @psprem @_do_lafj @tejasmita_tjjt आप सभी की रचनाएं अद्भुत थी! किसी भाई बहन का नाम लिखना भूल गया हूँ तो माफ़ करना!
    मैं @anusugandh ji से अनुरोध करूंगा कि वो #rachanaprati123 का संचालन करे!
    ©gannudairy_

  • anandbarun 23w

    @gannudairy_ #rachanaprati122
    जुगल छवि राधेकृष्ण आत्मिक प्रेम की मूर्त अभिव्यक्ति हैं.

    Read More

    आत्मिक प्रेम

    ऊधो न मोहे किछु मलाल
    जित देखूँ, तित हैं गोपाल
    कहो कहाँ न मेरे नंदलाल
    मैं उनकी, हैं वो मेरे ग्वाल
    जब से बिसरे, नश्वर गात
    करूँ संग बैकुण्ठ निवास
    और कहाँ अब ढुंढ़ो तात
    हर पल रहें जो मेरे साथ
    उन बिन कहाँ अब श्वास
    रोम-रोम, अरु रे निश्वास
    कृष्णमय, लागे है संसार
    तृप्त नयन रत अभिसार
    आनन्द कंद छवि निहार
    ©anandbarun

  • jigna_a 23w

    रूहानी प्रेम

    कल बड़ी लड़ाई की कान्हा से,
    पूछा.....,
    उससे मिलाया क्यूँ??!
    और मिला भी दिया तो ऐसे क्यूँ,
    कि उसकी कमी इतनी खल रही,
    जब मेरे नसीब में पाना नहीं था उसे,
    तो मिलाया क्यूँ??

    कान्हा बोले,
    कमी मेरी रीत में नहीं,
    परंतु तेरी प्रीत में अवश्य है,
    गर पा लेने से प्रेम पूर्ण होता,
    तो राधा कृष्ण नहीं,
    रुकमिणी कृष्ण बोला जाता,

    जो पाया होता तो पास होते हुए भी भुलाया होता,
    और अब प्रतिक्षण में पाओगी,
    पा कर नहीं,
    खो कर पाने में है प्रेम!!

    दैहिक और भौतिक क्षणभंगुर,
    कालजयी है
    रूहानी प्रेम!!
    ©jigna_a

  • gannudairy_ 23w

    रूहानी प्रेम

    बात है ये बड़ी पुरानी, है ये सदियों लम्बी बड़ी पावन प्रेम कहानी
    एक थे चितचोर सांवले कृष्ण और एक थी प्यारी राधारानी
    छोटे थे मेरे गिरिधर गोपाल, और राधा भी न थी सयानी
    जब मिले दोनों तो धन्य हुआ प्रेम, तब शुरू हुई ये प्रेम कहानी
    पिता के संग राधा गई थी गोकुल, तब मिले थे कृष्ण और राधारानी
    फिर समय बीतता गया और आगे बढ़ती गई यह प्रेम कहानी
    कृष्ण की बाँसुरी की तान सुनकर दौड़ी चली आती थी राधारानी
    कुछ वर्ष बीते इसी तरह, कुछ समय बीता प्रेम के दौर का
    फिर कृष्ण ने कहा, अब उन्हें जाना है कर्तव्य पथ पर अकेले
    गोपियों और राधा ने उन्हें कहा मत जाओ, विरह वेदना देकर
    तब कान्हा बोले राधिका से, प्रेमी बिछड़ जायें तब भी प्रेम नहीं मरता
    अभी प्रेम का सर्वश्रेष्ठ आदर्श हमें जग के सामने रखना है
    आने वाले प्रेमियों को सही राह दिखाने के लिए हमें प्रेम विरह सहना है
    जिस दिन कृष्ण, राधा से दूर हुए उस दिन बहुत रोई राधा रानी
    कान्हा भी दुःख से व्याकुल थे, लेकिन वे आगे बढ़े क्योंकि
    प्रेम शरीरों का नहीं आत्माओं का मिलन होता है, ये बात थी सबको समझानी
    ©gannudairy_

  • tejasmita_tjjt 23w

    रूहानी प्रेम

    चलो फिर खो जाएं उन गलियों में
    जहां चुपके से हम तुम मिले थे
    खो जाएं उन हसीं राहों में
    जहां हाथ थाम मिलकर चले थे
    बिन कहे बिन बोले ही हम
    इक दूजे की धड़कन जान लेते थे
    तुममें मैं और मुझमें तुम
    कुछ इस तरह हम रचे बसे थे
    सुहानी सी शाम में रूहानी सा प्रेम
    वो मीठी सी धुन गुनगुनाते थे
    बादल बरखा भंवरा चिरैया
    हमारे प्रेम के साथी बना करते थे
    चलो न! फिर खो जाएं उन गलियों में
    जहां चुपके से हम तुम मिले थे
    ©tejasmita_tjjt

  • anusugandh 23w

    रूहानी प्रेम

    एक नजर भर के तू देख ले तो प्यार हो जाए
    जिंदगी भर तेरे ही प्यार में गुलजार हो जाये
    कौन कहता है प्रेम इस धरती पर ही होता
    यह ऐसा जज्बा जो मरने के बाद भी किया जाए
    एक जन्म का नहीं होता यह रिश्ता
    ना जाने कितने जन्मों का साथ निभाया जाए
    प्रेम की खुशबू रग रग में बसती है
    क्यों सिर्फ चेहरे से प्यार किया जाए
    इस रूहानी प्रेम को महसूस कर के देखो
    ऐसा लगे रूह में लहू बनकर बहती जाए
    ना ज़िक्र हो सकता लफ्जों में प्रेम का
    इसको तो बस दिल से महसूस किया जाए
    क्यों भटकता है मन इधर-उधर
    क्यों ना जिंदगी भर के लिए एक से प्यार किया जाए जो बसता है रूह में हमारी आज तक
    बस उसको हमेशा महसूस किया जाए
    जिंदगी कितनी हसीन हो जाती है
    जब प्रेम का इजहार प्रेम के ज़ज़्बे से किया जाए
    ए दिल इस प्रेम की धड़कन के खातिर
    यह दिल किसी पर निसार किया जाए
    ना मिलता दोबारा किसी से यह प्रेम
    जब एक बार बस किसी से किया जाए
    रूह में बस गए हो रग रग में तुम हो
    क्या ही अच्छा हो हमेशा इस दिल में बसा जाए
    ©anusugandh

  • anandbarun 23w

    रूहानी इश्क़

    ज़िद है ख़्वाहिशों के सीमाहीन क्षितिज को पाने का
    नए पाँव बच्चे के दौड़ने सा
    अहसास को छूने की नाकाम कोशिश में जूझने का
    फतिंगें का लौ पर मिटने सा
    नाम है अंतहीन संघर्ष के अनन्तर ज़िन्दगी जीने का
    पिंजरे को नकारते पंछी सा
    करूँ इश्क़ ऐसा कि मिट जाए भेद अपने-पराये का
    फिरूँ मलंग रूहानियत सा
    ©anandbarun

  • _do_lafj_ 23w

    ❣️

    वो हमारा ज़िक्र करते है,
    हम उनके एक ख़याल पे मरते है।।
    आदत बुरी ही सही,
    हम उनका नशा बार बार करते है।।
    जिस्म में ना सही,
    वो हमारी रूह में उतरते है।।
    उनके ख़याल हमें खुद में,
    बहुत महरूम करते है।।
    आदत सी है हमे उन्हें लिखने की,
    हम अपनी चाहत को बे-परदा सरेआम करते है।।


    ©_do_lafj_

  • goldenwrites_jakir 23w

    #रूहानी प्रेम

    जवानी की दहलीज पर कदम भी "नही रखा
    और ये दिल मचलने लगा ,
    तेरी हँसी मुलाक़ातों से शुफ़ियानी इश्क़ होने लगा
    कब कैसे दिल में घर तू कर गई
    पहली मोहब्बत दिल से रूह में उतर गई
    प्रेम के ढाई अक्षर ना जाने कितने जन्मों का
    राग वफ़ा इश्क़ का गाने लगा ,,
    तेरी बातें तेरी शरारत तेरा इंतजार दिल को अच्छा लगने लगा
    रूहानी प्रेम की माला में खुशबू बनकर हर इक साँस में तेरा प्यार मेरी ज़िन्दगी में घुलने लगा
    प्यार कहते सायद इसे ये एहसास होने लगा होने लगा |
    ©goldenwrites_jakir

  • gannudairy_ 23w

    #rachanaprati122
    विषय - "रूहानी प्रेम"

    @anandbarun @anusugandh @mamtapoet @goldenwrites_jakir
    #gannudairy

    Read More

    विषय

    @loveneetm ji आपका बहुत बहुत धन्यावाद जो आपने मुझे संचालन के लिए चुना है....
    @anusugandh ji @mamtapoet ji @anandbarun @alkatripathi79 @goldenwrites_jakir आप सभी का बहुत आभार...
    #rachanaprati122 का विषय है "रूहानी प्रेम"
    ©gannudairy_

  • loveneetm 23w

    आप सभी ही विजेता है जिन्होंने इस श्रृंखला हेतु अपनी अद्भुत रचनाए लिखी सभी को मेरा नमन और आभार।
    इस श्रृंखला को आगे बढ़ाने हेतु मै नव नवीन लेखकों को अवसर देता हूँ। @gannudairy_ जी को अगले श्रृंखला की हार्दिक शुभकामनाएँ । #rachanaprati121 #rachanaprati122

    Read More

    #rachanaprati122