#talks

496 posts
  • r_aj_a 1d

    चाय बन रही है...

    दूध और पानी मिल रहे है,
    वैसे दिल से दिल मिल रहे है ।

    ...और चाय बन रही है
    ©r_aj_a

  • an_merciful_friend 2w

    _*To you & your family*_,

    नमस्ते

    *कैसे हो आप?* आशा करता हूं कि सब खैरियत है।

    "बीता एक साल या कहो बीते महीने बारा,
    _*एकिस्वी सदी के एकिस्वे जन्मदिन*_ पर आपका स्वागत है यारा।"

    _मन की बातें कहने लेकर आया हूं फिर से एक प्यारा सा नज़राना, कैसा लगा अगर हो सके तो ज़रूर बताना।_

    "*पिछले साल की आखरी रात* बाकी रहती उम्मीदें हमारी नींद भरी पलकों में बंध करके, उन उम्मीदों को नए साल की पहली सुबह पर खुलती आंखों की नजरों में हमें देकर *चली जाएगी*,
    और *इस साल ज़रूर पूरी होंगी तुम्हारी चाहतें*, ये आशीर्वाद भी देकर जाएगी।"

    *शीर्षक*: 21st Birthday of the 21st Century!!

    यह बात उतनी ना मेरी और आपकी है, ना बीते व आनेवाले साल की है, जितनी भी है *हम सबके साथ इस सदी के आज* की है।

    पता नही सो साल हम जीयेंगे या नहीं , पर इस *सदी की तो सदी* तय है, नर्वस नाइनटी की इसे कोई चिंता नहीं , मगर हम है तभी इसकी यादें है, इसलिए उन्हें सजाने के और इस खास दिन को मनाने के वास्ते ये *पार्टी मैने होस्ट* की है।

    इस *पार्टी की लिखावट* हर आनेवाले पल की तरह अनिश्चित होती जा रही है ☺️, इसमें "जिन्हें जानता हूं व जानना चाहता हूं, उनके साथ *आज* का एक हिस्सा और उसकी खुशी बांटना चाहता हूं ", निश्चितता तो बस *इस बात* की है।

    बातों का सिलसिला चलता रहेगा, चलिए वक्त होगया है "इस सदी की सालगिरह की केक" काटने का........
    अरे अरे कोई बात नहीं..तैयार नहीं हुए तो चलेगा बस मन के चेहरे पे मुस्कान रख लेना और ताली अगर ना बजानी हो तो बस इतना कह देना की..

    _*Happy 21st Birthday 21st Century & Happy New Year 2022*_

    द्वारा लिखित: *दोस्त* उर्फ *अंकित महेता* ✌

    ©an_merciful_friend

  • unnatural 3w

    ಆಸೆಗಳ ಕಟ್ಟಡ ಕಟ್ಟಿ
    ಕೆಲಸ ಮಾಡದೆ, ಕನಸ್ಸುಗಳ ಕಾಣುತ
    ನಿದ್ದೆ ಮಾಡಿದರೇನು ಬಂತು ಕೃಷ್ಣಾತ್ಮ!!!!

    ಕಲ್ಲಿನ ದಾರಿಯಲ್ಲಿ
    ಚಪ್ಪಲಿ ಹಾಳಾಗುವುದೆಂದು, ಕೈಯಲ್ಲಿ
    ಇಟ್ಟುಕೊಳ್ಳುವವರ ಗತಿಯೇನು ಕೃಷ್ಣಾತ್ಮ!!!!

    #kannada #Krishnaatma #talks #randomthoughts #mirakee
    #miraquill #writersnetwork

    Read More

    ಆಸೆಗಳ ಕಟ್ಟಡ ಕಟ್ಟಿ
    ಕೆಲಸ ಮಾಡದೆ, ಕನಸ್ಸುಗಳ ಕಾಣುತ
    ನಿದ್ದೆ ಮಾಡಿದರೇನು ಬಂತು ಕೃಷ್ಣಾತ್ಮ!!!!

    ಕಲ್ಲಿನ ದಾರಿಯಲ್ಲಿ
    ಚಪ್ಪಲಿ ಹಾಳಾಗುವುದೆಂದು, ಕೈಯಲ್ಲಿ
    ಇಟ್ಟುಕೊಳ್ಳುವವರ ಗತಿಯೇನು ಕೃಷ್ಣಾತ್ಮ!!!!
    ©unnatural

  • jagruti_patil30 3w

    Uff ye aapka kaam khatam hi nahi hota,
    Kabse aapke intazar mai dil thame baithe hai hum,
    Kabhi to din mai ek dafa humse guftagu kar lijiye,
    Vada hai humara din bhar uff bhi nhi karege..

    ©jagruti_patil30

  • shubhamthind 4w

    Bored

    Anyone wanna talk? About anyyyyyythingg??

    ©shubhamthind

  • an_merciful_friend 10w

    *नमस्ते*

    *कैसे हो आप? आशा करता हुं कि सब खैरियत होगा।*

    काफी समय हो गया कुछ लिखकर आपको सुनाए हुए, इसलिए - *दिवाली, नया हिंदु वर्ष व भाईदूज* की खुशी में आप के लिए आज लेकर आया हुं एक *प्यारभरा नज़राना*, कैसा लगा अगर हो सके तो ज़रूर बताना।

    "वक़्त ने किया क्या हसीन सितम..किसीको याद करके इस पल में, अगले पल में उसे भूल गए हम..वक़्त ने किया..."

    बीता हुआ वक़्त यूंही कोई भुला नहीं पाता, बस उस वक़्त के साथ दूर जा रहा कल धुंधला होता जाता है और यूंही वक़्त की छन्नी में से जो बातें, लोग, और पल छन के निकल आते है..उनकी कहीं ना कहीं, कभी ना कभी, बेवजह या किसी वजह से.. _*याद आती है।*_ ‍♂️

    व्यस्तता में हम जैसे कई है जो कह नहीं पाते, पर सब को दूर रहते अपनों की.. *याद आती है*। ⏳

    रोज़ बातें क्यों ना करते हो हम किसी से फोन पे, लेकिन फिर भी कभी जब बात ना हो तब उन साथ बिताए पलों की.. *याद आती है*।

    खुद खाना कितना भी स्वादिष्ट हम क्यों ना बना ले, फिर भी कभी किसी निवाले पे मम्मी के हाथों से बनी रसोई की.. *याद आती है*।

    दोस्त - रिश्तेदारों के साथ या कभी यूंही अकेले में खुशी से हंसते हुए, हमारी हंसी की किसी खिलखिलाहट में या खुशी के किसी आंसु में कुछ खास अपनों की.. *याद आती है*।

    इसे पढ़ते या सुनते हुए अगर कोई कहेगा कि,"यार, रुलाएगा क्या!?", तो में समजूंगा की आपके दिल तक मेरी ये बात थोड़ी सी भी सही लेकिन पहुंची है और आप कहो या ना कहो पर आपको भी किसी ना किसी की.. *याद आती है*।

    चाहता तो हुं कि और सोचकर लिखु , आपको और मन की बातें कहूं, आप जानते है की ये तरीका है मेरा आप सब को एक साथ मेरे शब्दों से बनी कहानी बताने का, मेरी बातें मेरी कहानियां जब आप तक पहुंचती है तब ही वे *मुक्कमल* होती है, और इसलिए कभी कभी आता हुं आपसे बातें करने..क्योंकि मुझे भी कहीं ना कहीं, कभी ना कभी, बेवजह या किसी वजह से आप लोगों की.. *याद आती है*।। ❤️

    द्वारा लिखित: *दोस्त* उर्फ *अंकित महेता* ✌

    ©an_merciful_friend

  • a14desire 17w

    Talks

    perhaps , for every problematic silent 'lock' there is key of communication . But what if you are not agreeable with me neither do you want to be.
    ©14desire

  • goardhan_ 19w

    Difference

    If we help them
    Then
    They will forget us

    And

    if we give a piece of
    Biscuit to them
    Then
    They Will give their life to our hand

    That's

    Human
    vs
    Dog
    ©goardhan_

  • goardhan_ 19w

    Try

    Just try to become a non-responsive person
    Because
    Some times the silence will catch you with a turning point on your
    "DECITION"
    ©goardhan_

  • _undefined_writer_ 19w

    Sabse zyada baatein do chup logon ke beech me hoti hain....

    ©_undefined_writer_

  • goardhan_ 20w

    Change

    Trying to catch myself

    Because

    Everyone is related one another with
    221 Baker street
    ©goardhan_

  • goardhan_ 20w

    Mad

    I'm always brake ma rules

    Because of this
    "FORGIVENESS"
    ©goardhan_

  • goardhan_ 20w

    OMG

    i'm afraid of myself
    Because

    What will be my behavior
    TOMMORROW
    ©goardhan_

  • goardhan_ 20w

    Night

    We always made something for pending
    Maybe
    It's our memories
    And
    It's chill with the
    NIGHT
    ©goardhan_

  • goardhan_ 20w

    I'm

    For me
    Giving up is not a failure
    N
    It's a Respect
    That
    YOU WON THE GAME
    ©goardhan_

  • abhirites 26w

    बात नहीं होती है

    पता नहीं क्या सोच बैठे हो तुम..
    होती थी रोज़ बातें , आज कहां हो गुम..
    तुम्हारे बिन सूरज ढल तो जाता है पर शाम नहीं होती है...
    कहने सुनने को है कितना कुछ
    पर अब बात नहीं होती है।

    एक वक़्त थे दिन रात बराबर
    बिन सोचे सब तुमसे कहता था..
    औरो का मतलब नहीं,खयाल तुम्हारा रहता था,
    थक गए है किस्से..
    कहानियां भी अब रोती है...
    कहने सुनने को है कितना कुछ
    पर अब बात नहीं होती है।

    सूना सा अब है सब
    बदला था कभी,या बदला हूं अब
    मिलकर भी सामने
    अब ये खामोशी सहन नहीं होती है...
    कहने सुनने को है कितना कुछ
    पर अब बात नहीं होती है।।

    ©abhirites

  • sheikh_huzaifa 26w

    ©sheikh_huzaifa

  • sheikh_huzaifa 26w

    Zindagi nai dukh diyai thay aaisay
    Ki sitam saray chokhat pay aa baithay thay
    Kar k aapnu ko khafa
    Sukoon na milta tha oon logu ko
    Na khayal rehta tha bimari ka
    Na bimaar walu k dard ka
    Aapni hi mooj manaanay aatay thay
    Bimari ko humari mazak samajh tay thay
    Aatay thay! Baatu liyai
    Jatay thay zakham chood k
    Chup chup k rooya hum kartay thay
    Kisi aapnai ko humara dard na dekhay
    Khud udaas ho baith tay thay
    Laikin aapnu ko udaas na kar saktay thay.....
    ©sheikh_huzaifa

  • yourstrulyprince 27w

    Talks

    The fastest thing that passes through in the world is talks about you.


    ©yourstrulyprince

  • jee_tu 28w

    I asked' Hi, How are you

    She replied' Good

    I guess that's all I wanted to know

    I guess that's all she wanted to tell

    And that's it

    We never talked again

    She is good

    I might be good too!

    ©jee_tu