gopaljha95

www.instagram.com/gopaljha95

Mech Engineer��⚙��⚒ trying to write (not a professional) Do follow if you like my works

Grid View
List View
Reposts
  • gopaljha95 128w

    मूंछों के ताव को,
    सीने पर लगी घाव भी न झुका सकी,
    इन्कलाब लिखने की तमन्ना को,
    घटती सांसे भी न रुका सकी,
    आख़िरी गोली से भी वन्दे मातरम कहूंगा,
    शिकंजे तुम्हारे प्रबल नहीं कि इरादों को मेरे जकड़ सके,
    आजाद था आजाद हूं और आजाद रहूंगा
    वन्दे मातरम् जय हिन्द
    ©gopaljha95

  • gopaljha95 133w

    ����नेताजी सुभाष चन्द्र बोस को शत शत नमन���� #inspiration #life #thoughts
    hindilekhan #ggk #live #love #hindi
    @ayush_tanharaahi @jayraj_singh_jhala @naushadtm @hindiwriters @writersnetwork @rangkarmi_anuj @hindiurduwriters

    Read More

    मसले मसाइलें चलती रहीं,
    राजनीति पुरजोर था,
    आजादी की कामना लिए,
    अंग्रेजों के राह में खड़ा आजाद हिन्द फौज था,

    आजाद हिन्द फौज का वो सेवक,
    आजादी को चढ़ गया शूली था,
    आजाद हिन्द के सपने को जिन्होंने संवारा,
    हिन्द के वीर सपूत नेताजी भारत का बेटा दुलारा था

    नेताजी सुभाष चन्द्र बोस को शत शत नमन
    ©gopaljha95

  • gopaljha95 134w

    आओ मिठास बांटे इस जहां में,
    आ तिल गुड़ सा साथ हो जा,
    तू पतंग मैं डोर संभाले बागडोर,
    चल साथ साथ आसमां के गोते लगा,
    ©gopaljha95

  • gopaljha95 142w

    तुम कांटे हो मुकुट की ,
    मैं गले का हार प प्रिये,
    तुम भागो जंगल जंगल,
    पहली किरण पर मैं बनाऊं सरकार प्रिये,

    तुम छुपते छुपाते रहो होटलों में,
    मैं बनाता सरकार प्रिये,
    सीटें तुम्हारी ज़्यादा हो सकतीं हैं,
    ये सब हैं मेरे आमदार प्रिये,

    शह का इंतेज़ार करो तुम ,
    मैं देता हूं हार प्रिये,
    चिकारा कहते हैं प्यार से हमें,
    नाम हमारा शाह प्रिये
    ©gopaljha95

  • gopaljha95 146w

    चुनावों का दौर है,
    चर्चे और पर्चे हर ओर है,
    डकैतों की दुनियां है,
    और नेता सारे चोर है,
    बेशक सही गलत का बोध है हमें,
    स्थिति अपनी क्या बताएं तुम्हें,
    अंग्रेज़ों ने लुटा था एक जमाने में,
    अब अपने है लूट रहे हमें
    ©gopaljha95

  • gopaljha95 148w

    विजय दशमी की शुभकामनाएं ����

    #hindilekhan #ggk #life #live #love #hindi @jayraj_singh_jhala @naushadtm @rangkarmi_anuj @hindiurduwriters

    Read More

    मर्यादा की कथा सुनाते थे,
    हुए एकांत में नग्न थे,
    जमाना समझता था बाबा उन्हें,
    वो काम मोह में मग्न थे,
    रावण जलता था हर दशहरे मे,
    बाबा भी उसी श्रेणी के योग्य थे,
    जाने कितनी आबरूअों का दमन किया था,
    नर्क भोगने योग्य थे ,
    अजीब थी कलयुग की माया ,
    श्री राम के नाम पर रहे भोग थे,
    खुद के अंदर रावण जगाए रखा,
    चौराहे पर रावण रहे जल थे
    ©gopaljha95

  • gopaljha95 149w

    अपनी हालातों से तंग मैं,
    दर्द हो जोड़ों की अंग अंग में,
    जी चाहता है,
    धुनि रमाऊं नीलकंठ सा,
    हो जाऊं मतवाला पी के भंग मैं,
    अपनी हालातों से तंग मैं,
    ©gopaljha95

  • gopaljha95 149w

    लूटा गया हर चौराहे पर मैं तो तार तार हो गया ,
    मैं बिहार हो गया,

    बुद्ध की बुद्धि देते मौन हो गया,
    सरकारें बनाता गिराता हूं मैं,
    पर आज बिहार हो गया,

    बुद्धजीवियों का राज्य,
    घर घर कलेक्टर आम हो गया,
    कुछ अपनों ने दिए ज़ख्म,
    मैं सरेआम हो गया,

    मेरे भाषा का किसी ने मज़ाक उड़ाया,
    मैं सरेआम लड़ गया,
    सुविधाओं से परे ,
    अकेला इन राहों में खड़े ,
    मैं बिहार बन गया
    ©gopaljha95

  • gopaljha95 150w

    तू मुझमें शामिल है शाये की तरह,
    तू बनी मेरे जिने की हर एक वजह,

    तुझे पाना चाहूं,
    तेरा होना चाहूं ,
    तेरे जुल्फों के वादियों में खुदको खोना चाहूं,
    तुम अगर समंदर की लहरें हो तो ,
    मैं तुमसे मिलता रहूं किनारे की तरह ,
    तू मुझमें समाया है शाये की तरह ,

    तुम मेरे रोम रोम में बसती हो,
    दुःखी होता हूं अगर मैं तो,
    मुझे हंसती खुद भी हंसती हो,
    तेरे साथ "कामिल" हूं मैं ,
    तेरे हर सांस में शामिल हूं मैं,
    ©gopaljha95

  • gopaljha95 150w

    हाइकु

    खामोशियों को,
    गुनगुनाने तो दो,
    सुनाने तो दो,

    सुनाने तो दो ,
    आज जताने तो दो,
    ज़ख्म कुरेदो,

    ज़ख्म कुरेदो,
    जज़्बात गाने तो दो,
    कवि कल्पना,

    कल्पनाओं को,
    कविता बनाने दो,
    गाने तो दो,
    ©gopaljha95