neha_pandey1205

Raipur (Chhattisgarh)

Grid View
List View
  • neha_pandey1205 64w

    प्रेम

    प्रेम में आकर्षण स्वाभाविक हैं किन्तु ,
    प्रेम का आधार हमेशा सौन्दर्य नहीं होता ।।

    ©neha_pandey1205

  • neha_pandey1205 72w

    सत्य

    अतीत सिर्फ स्मृति हैं,
    भविषय केवल कल्पना ।
    वर्तमान ही सत्य हैं,
    सत्य परेशान अवश्य करता है ,
    किन्तु पराजित नहीं ॥
    ©neha_pandey1205

  • neha_pandey1205 98w

    .

  • neha_pandey1205 98w

    अब ना सवाल होते है ,
    ना जवाब होते है ।
    अब तो बस ,
    "खामोशी में जकड़े "
    अल्फाज़ होते है ।
    ©neha_pandey1205

  • neha_pandey1205 98w

    .

  • neha_pandey1205 98w

    किश्तों में चल रही है ज़िन्दगी

    ©neha_pandey1205

  • neha_pandey1205 98w

    परेशान करता था ,
    मेरा बोलना उसे अक्सर ।
    अब शायद खामोशीं ही
    पसंद आ जाये उसे मेरी ॥
    ©neha_pandey1205

  • neha_pandey1205 100w

    कभी वक्त मिले तो, अपने शहर की ओर रुख कर लेना....
    तुम्हारे इंतज़ार में हम बारिश में नहीं भीगे ,
    लेकिन हर रोज़ पलकें ज़रूर भीगी हैं....
    ©neha_pandey1205

  • neha_pandey1205 116w

    Malum hai hame bi
    tere bahut se kisse hai...
    Pr bat sanskaaron ki hai,
    Hum teri trh kisi baten
    uchhala nhi karte....
    ©neha_pandey1205

  • neha_pandey1205 116w

    Mai tera hu ,tu meri hai......
    Bhale he tu vada na kr mujhse ,
    hmare ek hone ka,
    Par tu jaan hmesha meri hai......
    Han mai janta hu ki ,
    hum dono ek doosre ki chahat ,
    or kamzori hai.......
    Lekin mujhe , pura bharosa ki,
    mai sirf or sirf tera hu or ,
    Tu sirf or sirf meri hai....
    Tu sirf or sirf meri hai....❤
    ©neha_pandey1205