nisargwrites

www.instagram.com/nisarg_patil_2408

��live to enjoy�� ��Author of 'The Uncleared Dream' which is available on Amazon ��

Grid View
List View
Reposts
  • nisargwrites 6w

    वो उसकी बेवफाई थी,या मेरी बदनसीबी मै नहीं जानता,
    बस अब दोबारा मोहब्बत नहीं होती किसी से...
    ©nisargwrites

  • nisargwrites 11w

    जिन्हे अंधेरे में रोशनी की तलाश है,
    उम्मीद की किरण जिन्हें नजर नहीं आ रही,
    चलो, उनमें नयी सोच और नये उमंग से हम ले आए खुशाली,
    आओ साथ मिलकर मनाये ये दीवाली।
    ©nisargwrites

  • nisargwrites 14w

    हवाओं के संग मैं बहना चाहता हूँ,
    तुझसे मोहब्बत है, ये बात मैं सबसे कहना चाहता हूँ,
    तेरे लिए मैं सारे दर्द सहना चाहता हूँ,
    तेरा होकर मैं बस तेरा रहना चाहता हूँ।
    ©nisargwrites

  • nisargwrites 16w

    मैं वो क्यों करूँ,
    जो मैंने कभी करना चाहा ही नहीं,
    मैं वो क्यों बनूँ,
    जो मुझे कभी बनना था ही नहीं।
    ©nisargwrites

  • nisargwrites 16w

    ए मंजिल,
    तेरे दहलीज पर आकर थम गया हूँ मैं,
    नासमझ हूँ, नादान हूँ,
    पर आवारा नहीं हूँ मैं,
    खामोश हूँ, निराश हूँ,
    पर अभी तक हारा नही हूँ मैं।
    ©nisargwrites

  • nisargwrites 18w

    बहुत दिनो से शांत रह कर,
    हम खुदको ही गुमनाम कर बैठे है,
    पर यूं ही कमजोर ना समझ लेना हमे,
    हम अपने मुकाम को हासिल करने का
    हर एक इंतजाम कर बैठे है।
    ©nisargwrites

  • nisargwrites 20w

    जब तक जी रहे हो मुस्कुराते रहो,
    क्या पता कब कौन रुला दे,
    खुश रहो और खुशियाँ बांटते रहो,
    क्या पता उप्पर वाला कब किसे बुला ले
    ©nisargwrites

  • nisargwrites 21w

    परेशान भी रहूं अगर मैं,
    तो अब बहाने बनाना सीख लिया है मैंने,
    रुठ भी जाऊ अगर अब किसी से,
    तो खुद को खुद मनाना सीख लिया है मैंने।
    ©nisargwrites

  • nisargwrites 24w

    अपनी किस्मत के साथ रुबरु होने से,
    मैं दूर नहीं था,
    पर अपनी मंजिल को मैं हासिल कर लूँ,
    ये जमाने को मंजूर नही था ।
    ©nisargwrites

  • nisargwrites 31w

    .