nish_mgn

www.instagram.com/poetryprom/

Doctor in Making Can i write? May be.? or may be not. Let's discover..! follow my instapage @poetryprom

Grid View
List View
Reposts
  • nish_mgn 103w

    बैठी हूँ शोर मैं
    मगर फिर भी शान्ति है
    अब क्या ही तारीफ करे
    उनके खयालो के नशे की
    ©nish_mgn

  • nish_mgn 145w

    I am a sinking ship...
    which is burning...
    so let go off my hand

  • nish_mgn 148w

    Holi Mubarak ♥️

    Read More

    आज होली के रंग युही
    निखर गये
    जब उसे देखा खुश
    बेशक किसी और के साथ
    तो हम सवर गए |

    ©nish_mgn

  • nish_mgn 150w

    Mohobbat k Nashe mein hum use
    Khuda samjh baithe
    Hosh toh tb aaya Jab usne kaha
    K khuda kisi ek ka nhi hota

  • nish_mgn 151w

    सुन...
    एक दफा मुड़कर हाल तो देख जा मेरा
    मगर.. रुक ..!
    रहने दे
    वरना तेरा भी दिल टूट जायेगा.
    ©nish_mgn

  • nish_mgn 151w

    मैं सबको देख लेती हूँ
    की शायद तू दिख जाए
    ऐ जालिम देख
    तेरी एक झलक ने मेरी क्या हालत कर रखी है

  • nish_mgn 152w

    Agar tu ittefakam mil bhi jaye
    Teri furkat k sadme kam na honge

  • nish_mgn 152w

    Suna hai
    Aaj kal
    Pyar k naam par
    Log izzat gava Rahein hain
    ©nish_mgn

  • nish_mgn 152w

    Thaki nhi bas himmat haari hoon
    Jiske liye likhti thi
    Ab usi ko na likh kr apne dil se bhaari hoon
    ©nish_mgn

  • nish_mgn 153w

    कुछ इस तरह चले
    जायेंगे तेरी ज़िंदगी से
    जैसे एक पत्ता झड़ा हो बड़े पेड़ से
    ©nish_mgn