Grid View
List View
Reposts
  • pallavi_singh 8w

    Life has become so happiest just by being close to you
    life would be so beautiful if you were with me
    ©pallavi_singh

  • pallavi_singh 18w

    जान

    वो हमे जानते ही कितना थे
    जो जी भर के जान लेते तो हमारे खातिर अपनी जान देते
    ©pallavi_singh

  • pallavi_singh 85w

    .

  • pallavi_singh 86w

    .

  • pallavi_singh 86w

    .

  • pallavi_singh 97w

    मुझको हसाने से लेकर रुलाने तक का किस्सा मुझे याद है
    बंधन तो ना बांध सका पर उसके हाथ छुड़ाने तक का हिस्सा मुझे याद है
    ©pallavi_singh

  • pallavi_singh 97w

    तेरा साथ होना भी कैसा होना है
    जो ना होने के जैसा हैं
    ©pallavi_singh

  • pallavi_singh 101w

    कोई उसके बेवफाई का मुकदमा दर्ज करो
    उसके गुनाहों के सबूत मेरे पास भी है
    ©pallavi_singh

  • pallavi_singh 101w

    मैं खामोश रहूं तो तुम्हें कोई शिकायत नहीं रहती मुझसे
    कुछ कह दूं तो दिल में तुम्हारे मलाल रह जाता है
    यह कैसा इश्क है तुम्हारा?
    मेरी खामोशी से ज्यादा तुम्हें शब्द चुभ जाता है....
    ©pallavi_singh

  • pallavi_singh 101w

    तुम अब नजरें बहुत चुराने लगे हो
    ये हुनर सीखा है या तुम हमें आजमाने लगे हो खलती नहीं क्या नामौजूदगी हमारी अब तुम्हें
    या फिर तुम खुद हमसे दूरियां बढ़ाने लगे हो
    ©pallavi_singh