poet_of_sea

Who am I? I'm mere an alphabet in ocean of poetry �� Feel free to tag, would love to read ��

Grid View
List View
Reposts
  • poet_of_sea 63w

    कभी हाथ उठाने से पहले रेहमतें बरसा देता है,
    कभी मांगने पर बी मूंह फेर लेता है।
    दिल पे किसी का बस नहीं Omi
    वो खुदा होकर बी अपने मन की करता है।

    ©Poet_of_sea

  • poet_of_sea 63w

    ��

    Read More

    न मोहब्बत की चाहत न नफरतों का गम
    आइना बनकर जो जैसा मिले
    उसे उस जैसा नज़र आए हम।
    ©poet_of_sea

  • poet_of_sea 135w

    चल रहें है दुनिया में मिलावटों के सिल्सिले
    मैंने अल्फ़ाज़ों में थोड़े जज़्बात मिला भी दिए तो क्या ?

    ©poet_of_sea
    #hindiwriters @hindiwriters

    Image credits:- elfandiary

    Read More

    ©poet_of_sea

  • poet_of_sea 135w

    दुनियादारी के खोखले रिवाज़ों में जकड न मुझ को
    के बे-मन की गई दुआ भी कबूल नहीं होती!

    #hindiwriters @hindiwriters @hindiquotes18 @hindiurduwriters @hindipoetry @hindi__poetry

    Read More

    ©poet_of_sea

  • poet_of_sea 135w

    .

  • poet_of_sea 135w

    इस मोहब्बत की कश्मकश में
    तजुर्बा कुछ ऐसा पाया है,
    कोई ज़ख्म लाया
    तो किसीने आज़माया है !
    .
    ©poet_of_sea

  • poet_of_sea 135w

    मुझे दिल पर कुछ इस वजह से तरस आता है
    टूटा है यारों
    पर उसे याद कर अब बी मुस्कुराता है
    ©poet_of_sea

  • poet_of_sea 136w

    गुज़रता हूँ तेरी यादों की गलियों से कुछ इस तरह
    जैसे बच्चा एक मेले की नुमाइशों से गुज़रता है,
    न चाहते हुए बी
    लौट आता हूँ हकीकत की महफ़िल में इस तरह
    जैसे बच्चा खिलौने की दुकान पर दिल छोड़ आता है!

    ©poet_of_sea

  • poet_of_sea 150w

    ��

    Read More

    समुन्दर से गहरा इश्क़ मेरा
    जो लफ़्ज़ों में ले आऊं
    तो नदी बी ना लगे !

    ©poet_of_sea

  • poet_of_sea 155w

    .