• jhallii_muskan 270w

    Collaboration with two amazing writers @01saurav @pradyumndutta ���� #mirakee #writersofmirakee

    Read More

    दिल की बात जो ज़ुबाँ तक न पहुँची
    आंखों ने वो सारा मंज़र बयाँ कर दिया
    -pradyumn

    गड़े थे जो गहराई में उसे हकीकत कर गए
    ये कमबख्त निगाह पूरा माज़रा बयाँ कर गए
    -muskan

    जुबाँ की नहीं, आंखों की भाषा कहते हैं,
    ये दिल के राज हैं जो मेरे ज़र्रे ज़र्रे में बसते हैं

    उन अफसानों को इंतेजार तो बस चमकने का है
    अपने हिस्से में थोड़ी ज़मीन और थोड़ा आफ़ताब भी रखते हैं।
    -saurav