• itsnav 18w

    मुझे अब नींद की तलाश नहीं,
    अब रातों में जागना अच्छा लगता है

    मुझे नहीं मालुम की वो मेरी
    किस्मत में है या नहीं,
    मगर खुदा से उसे मांगना अच्छा लगता है

    जाने मुझे हक है या नहीं,
    पर उसकी अपनी जान से ज्यादा
    परवाह करना अच्छा लगता है

    उससे प्यार करना सही है या नहीं,
    पर इस अहसास को जीना अच्छा लगता है

    कभी हम साथ होंगे या नहीं,
    पर ये ख़्वाब देखना अच्छा लगता है

    वो मेरी है या नहीं,
    पर उसे अपना कहना अच्छा लगता है

    दिल को बहलाया बहुत पर मानता ही नहीं,
    शायद इसे भी उसके लिए धड़कना
    अच्छा लगता है!
    ©