• rohitkumar29 9w

    यादें।

    यादें भी कितनी अजीब होती हैं,
    साथ मैं होती नही हैं फिर भी,
    कभी हँसा देती हैं कभी रुला देती है,
    कभी किन्ही के अस्तित्व का अहसास दिला देती है।।
    ©rohitkumar29