• nisargwrites 56w

    गैरों तक तो ठीक था,
    पर जिसे मैंने अपना समझा,
    उसने भी मुझसे दूरियाँ बनाई है,
    उस से नाराज नहीं हुॅं मैं,
    बस, खुद से अंजान हुॅं मैं,
    क्योंकि शायद मुझमें ही कोई बुराई है।
    ©nisargwrites