• veesharma 15w

    Vs' 54

    तु खुश रह, हर जरूरत में अब में तेरे साथ हूं,
    शायद तेरा अपना नही, पर तेरी मुश्किलों में लड़नेवाला अब हाथ हूं ।

    तेरी मायूसी में वो बात नही जो तेरे हस्ते चेहरे में है,
    तु मुस्कुराती रहा कर, तु अब इस भाई के पहरे में है ।

    पता है थोड़ा अजीब सा ये हमारा किस्सा है,
    पहले दोस्त और भाई बहन का अब ये रिश्ता है ।

    पता नही कब तक तु साथ है इस भाई के,
    पर ये भाई तैयार है लढने को तेरी जिंदगी की हर लड़ाई से ।

    परवाह तेरी कोई करे न करे, मेरे लिए अब तू हमेशा खास है,
    दुनिया का कोई भी कोना हो,तेरी मुस्कान को समेटने; ये भाई हमेशा तेरे पास है ।

    भूल जा जो हुआ है पिछले कुछ दिनों में,
    अब जितना है हर जगह हमें और चुभना सबके सीनों में,

    तु हमेशा आगे बढ़े और जीते जिंदगी की हर लड़ाई को,
    पहले तो नही था, पर अब साथ पाएगी इस भाई को ।

    जब तू भाई कहके बुलाती है, एक अलग सा ही एहसास देती है,
    मेरी ये छोटी बहन तब; बना मुझे थोड़ा खास देती है ।

    भाई होंगे तेरे पास और शायद हर कोई मुझसे अच्छा है,
    पर मेरा तुझसे जुड़ा जो एहसास है, वो भगवान से भी ज्यादा सच्चा है ।

    दुआ करता हु की, में रहूं न रहूं, खुशियां तेरे पास सबसे ज्यादा हो,
    दूर रहे हर बलाएं तुझसे जिसका गलत कोई इरादा हो ।

    बस इतना की कहूंगा आखिर में,

    बड़े कम वक्त में तुझसे जुड़ा हुं, पर प्यार अपनी बहन से बहोत बहोत ज्यादा है ,
    बस तेरा साथ बनु और तेरी मुस्कान को तेरे चेहरे से हटने न दूं इसी कोशिश का वादा है ।।



    ©veesharma