• priynka 26w

    यूं तो अकेला भी बहोत पूरा हूं मैं ख़ुद में,
    ना जाने क्यूं फ़िर
    ये तुझसे बिछड़ने का खयाल मुझे तोड़ देता है...।
    इतना जो ज़रूरी हो गया है तू देख ना ,
    की तेरे लिए दिल अब हर ज़रूरी काम छोड़ देता है..
    तेरे साथ ज़िंदगी बिताने का ख़्वाब तो तूने देखने ना दिया,
    अब देखना है अलग ही होंगी राहें या अब खुदा इन्हें कहीं आगे जोड़ देता है..।

    ©priynka❣️