• lafzon_ki_riwayat 6w

    हिस्सा!

    तुम्हारी बरकत को रब किसी को छुने न दे,
    उसे किसी और के हिस्से में करना बहुत दूर की बात है।
    जो उसने तुम्हारा ठहरा दिया, वो तुम्हारा ही हिस्सा है!
    ©lafzon_ki_riwayat