• kanchanjha 16w

    सभी ख्वाहिशो को कहीं दफ्न करके ,जीना ही क्या जिंदगी है बतादो।
    सबसे छुपाकर ये घूंट आंसुओ के,पीना ही क्या जिंदगी है बतादो।
    ©kanchanjha