radhika_1234569

sapna singh listen to the simple wisdom inside you

Grid View
List View
Reposts
  • radhika_1234569 2w

    "☆ आज कल सब चलता है "☆

    हर नुक्कड़ पर यारा दर्द बिकता है ,
    ग़र खुद पर बीते तो कितने दर्द
    दुसरो पर बीते तो सबको होता है,
    ☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆

    आंसू बहा के देखो तो सब बिकता है ,
    जरा एक गलती कर के तो देखो
    तंज, रंज और तो और मंच भरता है ,
    ☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆

    नया दौर है यारों सब झूठ पर मरता है ,
    जिसे जितना चाहे खिलौना बना लो
    बात थामने की हो हाँथ पीछे करता है ,
    ☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆

    इंस्टा फेसबुक का ज़माना सब मिलता है ,
    जब बरसो साथ रहने वाले साथ नहीं देते
    दो चार दिन का लगाव कौन याद करता है,
    ☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆

    कभी मुड़ के देखना कौन-कौन सुबकता है
    कोई रोता,कोई मरता कोई तड़पता है
    इंसा बनो यारो दुनियाँ तुमसे हमसे बनता है ,

    Read More

    ☆ सब चलता है ☆

    "मत पालो ये भ्रम कि सब चलता है
    जिस दिन खुद पर पड़ी तो देखना
    क्या-क्या जलता है "




    ©radhika_1234569

  • radhika_1234569 4w

    रास्ता जो मिल गया है
    मंजिल नहीं तो क्या ? ❣❣
    हूँ आस के किनारे
    साहिल नहीं तो क्या ?

    तेरी चाहतों के दम से
    ❣❣ गुजरा है वक़्त सारा
    मैं बेवफ़ा नहीं हूँ
    क़ाबिल नहीं तो क्या ?
    तू मिले कंही ये आरज़ू
    दिल को यकीं है. ❣❣
    ग़ाफ़िल नहीं है तू
    हासिल नहीं तो क्या ?

    Read More

    तन्हां नहीं हूँ मैं
    महफ़िल नहीं तो क्या ?
    खुद में मदमस्त हूँ
    हलचल नहीं तो क्या ?





    ©radhika_1234569

  • radhika_1234569 7w

    कभी तो मेरे लिखे अलफ़ाज़ समझ पाओगे
    ग़र सच के जौहरी हो हीरा पहचान जाओगे!







    ©radhika_1234569

  • radhika_1234569 8w

    सबने इतना तोड़ा
    की हम टूट के रह गए
    टुकड़ो में बिखरे पर ,,,
    धूल,मिट्टी,पानी, संग मिल
    फिर एक पत्थर बन गए ..
    वक़्त लगा जमने में बनने मे
    कई महीनों कई दिन,बरस मे
    तब जाकर पत्थर बना
    ये दिल ये इंसान
    "एक पत्थर का फूल"
    जिस पत्थर के फूल को हर कोई नहीं जानता
    और जो जान गया ना वो कभी नहीं ठुकराता !

    Read More

    "पत्थर का फूल"
    बड़ी हिम्मत लगती है साहब
    इंसान को पत्थर बन जीने में..
    यूँही नहीं जीता इंसान छुपा के
    सारे ज़ख्म दर्द सीने में !







    ©radhika_1234569

  • radhika_1234569 8w

    सुनो,

    हाँ तुम सिर्फ तुम ,

    प्यार माँगने से नहीं मिलता
    बस महसूस किया जाता है l

    समझे,


    ©radhika_1234569

  • radhika_1234569 9w

    अगर तुम ख़्वाब हो तो इसे ख़्वाब ही रहने दो
    तुम मुझे अपनी यादो का तलबग़ार ही रहने दो !



    ©radhika_1234569

  • radhika_1234569 9w

    एक दहलीज़ ,
    जँहा कई भ्रम थे
    उस पार तुम थे,
    इस पार हम थे !





    ©radhika_1234569

  • radhika_1234569 10w

    ❤��लाल से नीला का अर्थ ज़ख़्मी दिल चोट लगना ❤��

    Read More

    ❤हरजाई तेरे इश्क़ का रंग फ़ीका पड़ गया
    दिल लाल था कभी अब नीला पड़ गया !❤






    ©radhika_1234569

  • radhika_1234569 10w

    तलफ़्फ़ुज़ में कैसी मिलावट आ गयी,
    यक़ीनन तेरे इश्क़ में गिरावट आ गयी!

    Read More

    बाते खरी और नजरे रूखी हो गयी,
    मेरे सच भी क्यों भला झूठी हो गयी!

    इतना टूटे की अब शमशीर हो गयी,
    खामोशी या खुदा तहरीर हो गयी!

  • radhika_1234569 11w

    जी हक़ीम की दवा में असर थोड़ा कम है
    मरीज़- ए -इश्क़ जिनकी नजरो में हम है !
    बाखुदा तेरी रहनुमाई का बेइन्तहाँ असर है
    दरम्यां जिनके फासला मंजिल पर बसर है !





    ©radhika_1234569