tarunkunjam

i want to share my thoughts from my heart

Grid View
List View
Reposts
  • tarunkunjam 91w

    जिन्दगी मे कुछ रस बचा नहीं
    जिसे पीता रहूं हर पल
    जिन्दगी जीने के लिए अब।

    ©tarunkunjam

  • tarunkunjam 92w

    As much as you explore yourself
    You understand yourself better.
    Which can help you
    understand many things in your life.

    ©tarunkunjam

  • tarunkunjam 94w

    आजकल दिमाग bsnl के सिग्नल जैसे हो गया है अकेले होने पर ही रफ़्तार पकड़ता और काम करता है।

    ©tarunkunjam

  • tarunkunjam 94w

    #diary#जिन्दगी

    Read More

    वीरान सी जिन्दगी है
    यहां खुशियां नहीं है
    फिर भी जिन्दगी चल रही है
    कैसे चल रही है
    यह मत पूछो हमे।

    ©tarunkunjam

  • tarunkunjam 94w

    अपना कोई नहीं यहां
    सिर्फ अपने आप से बात होती है।

    ©tarunkunjam

  • tarunkunjam 95w

    पर्वत पहाड़, नदियां और तालाब
    हरे भरे जंगल और नीला आसमान
    यह हिस्से इस संसार के
    जो इसे जीवंत बनाते
    जहां रहते पशु पक्षी
    और इंसान एक जगह है।

    ©tarunkunjam

  • tarunkunjam 96w

    कैसी यह दुनिया और
    कैसी इस दुनिया की दुनियादारी।
    जहां है अमीरी और गरीबी की खाई
    जिसने बाट डाली दुनिया सारी।
    जहां अमीरों की हर बात पर वाह-वाही
    वही गरीबों की हर बात पर जग-हसाई।
    एक के पास जरूरत से ज्यादा हर चीज
    वही दूसरे के पास जरूरत से भी कम हर चीज।
    कैसी है यह दुनिया और
    कैसी इसकी दुनियादारी।


    ©tarunkunjam

  • tarunkunjam 98w

    जिन्दगी जहां ले चले
    हमे मंजूर है
    बस हमें एक मकसद की
    दरख्वास्त है।

    ©tarunkunjam

  • tarunkunjam 98w

    अपने कमियों को मत गिनो
    उन्हें सुधारने के तरीके ढूढों।

    ©tarunkunjam

  • tarunkunjam 99w

    उम्र जीवन का
    दास्ता ऐ बयान है।

    ©tarunkunjam